Press "Enter" to skip to content

UP Panchayat Election Third Phase: पंचायत चुनाव के तीसरे चरण में 20 जिलों में वोटिंग, कई जगह हिंसा, गोली और लाठी डंडे चले [Source: Patrika : India’s Leading Hindi News Portal]

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

लखनऊ.

UP Panchayat Election Third Phase:उत्तर प्रदेश ग्राम पंचायत चुनाव के तीसरे चरण में यूपी के 20 जिलों में सुबह छह बजे से लेकर शाम सात बजे तक वोट डाले गए। कोविड प्रोटोकाॅल और सोशल डिस्टेंसिंग के दावे हवा-हवाई साबित हुए। जनप्रतिनिधियों ने भी वोट डाले। प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने देवरिया के पथरदेवा स्थित अपने गांव पकहां के बूथ पर मतदान किया। कोविड प्रोटोकाॅल और सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखने की अपील की। उन्नाव में ससुराल विदा होने से पहले दुलहन ने मतदान केन्द्र जाकर वोटिंग की तो कई जगह बुजुर्गों को वोट डालवाने के लिये लोग चारपाई पर या गोदी में लाते नजर आए। तीसरे चरण में कई जगह हिंसा, फायरिंग, पथराव हुआ, लाठी-डंडे चले और मतपेटियां लूटने की कोशिश की गईं। मिर्जापुर और फिरोजाबाद में पोलिंग बूथ पर फर्जी वोटिंग को लेकर जमकर तोड़फोड़ व पथराव हुआ। उन्नाव के माखी जगदीशपुर में एक हिस्ट्रीशीटर ने प्रधान प्रत्याशी के बेटे को गोली मार दी। तीसरे चरण में अपराह्न तीन बजे तक उन्नाव में 53 और अमेठी में 48.46 प्रतिशत वोटिंग हुई।

इसे भी पढ़ें- UP Panchayat Polls Phase 3 Voting live: मतदान के दौरान हिंसा, प्रधान प्रत्याशी के बेटे को गोली मारी, फर्जी वोटिंग को लेकर फायरिंग, पथराव

मिर्जापुर के विंध्याचल थानान्तर्गत घमहापुर के कम्पोजिट विद्यालय के पोलिंग बूथ पर फर्जी वोटिंग पोलिंग बूथ पर हंगामा हआ। ग्रामीणों ने पुलिस पर पथराव कर दिया, जिसमें एसडीएम और सीओ की गाड़ी क्षतिग्रस्त हो गई। जान बचाने के लिये पुलिस वाले भागते दिखे। काफी देर बाद जाकर स्थिति कंट्रोल में आई। अपर जिलाधिकारी यूपी सिंह ने कहा कि वोटर लिस्ट को लेकर भ्रम की स्थिति थी, जबकि गांव वालों का आरोप था कि फर्जी वोटिंग कराई जा रही थी।

मेरठ के परीक्षितगढ़ के कैली रामपुर में प्रधान पद के दो प्रत्याशियों के समर्थकों के बीच मारपीट और दर्जनों राउंड फायरिंग के बाद भगदड़ मच गई, जिसमें चार लोग घायल हुए। दोनों प्रत्याशियों को पुलिस थाने ले आयी। बलिया के मनियर ब्लाॅक अंतर्गत एलासगढ़ गांव में मतदान केन्द्र से दबंगों ने मतपत्र और मोहर लूटेे जाने के बाद ग्रामीणों ने बवाल किया। अधिकारियों के साथ पहुंची पुलिस ने किसी तरह स्थिति पर नियंत्रण किया और दर्जनों लोगों को हिरासत में लिया। चिलकहर ब्लाॅक के रामपुर असली गांव में भी दो गुटों में जमकर लाठी-डंडे चले।

चंदौली जिले की चकिया कोतवाली अंतर्गत बनरसिया गांव के प्राथमिक विद्यालय मतदान केंद्र पर पीठासीन अधिकारी की पिटाई कर उनके कपड़े फाड़ डाले गए। दाे प्रत्याशियाें और समर्थकों ने पीठीसीन अधिकारी के साथ मारपीट की और उनके कपड़े फाड़ दिये। इससे मतदान केन्द्र पर हंगामा और भगदड़़ जैसा माहौल हो गया। सूचना मिलते ही एसडीएम अजय मिश्रा, कोतवाल नागेंद्र प्रताप सिंह पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचेे पर तब तक मारपीट करने वाले वहां से भाग निकले थे।

फिरोजाबाद के जरसाना ब्लाॅक के नागला परदमन में फर्जी वोटिंग को लेकर जमकर फायरिंग व पोलिंग बूथ के अंदर पथराव और लाठी-डंडे चले। एक पोलिंग बूथ की खिड़की तोड़कर मत पेटिका लूटने की कोशिश की गई। हालांकि डीएम-एसपी के साथ मौके काफी संख्या में सीआरपीएफ तत्काल पहुंच गई। वहां काफी देर तक मतदान बाधित रहा।

अमेठी के जामो ब्लॉक अंतर्गत जनापुर ग्राम पंचायत के बूथ नंबर 72 पर तबियत बिगड़ने से एक कर्मचारी गिरकर बेहोश हो गया और उसके मुंह से खून निकल आया। गौरीगंज ब्लाक के गूजर टोला बूथ पर फर्जी मतदान करते दो युवकों को पुलिस ने हिरासत में लिया। फिरोजाबाद के खैरागढ़़ थाना क्षेत्र के बरौली बूथ संख्या 146 पर मतदान के दौरान मतपेटिका लूटकर तालाब में फेक दी गई। फिरोजाबाद के शेखपुर घड़ी में एक बुजुर्ग को उसके परिजन चारपाई पर लेटाकर मतदान कराने लेकर पहुंचे। जसराना के झपारा में भी 95 साल की शांतिदेवी ने मतदान के लिये गोद में उठाकर लायी गईं।

 

तीसरे चरण का डिटेल

जिले
फिरोजाबाद, कासगंज, हमीरपुर, फतेहपुर, पीलीभीत, मुरादाबाद, देवरिया, बलरामपुर, सिद्धार्थनगर, कानपुर देहात, औरैया, जालौन, उन्नाव, बाराबंकी, अमेठी, मेरठ, शामली, चंदौली, बलिया व मिर्जापुर

कुल सीटें
2 लाख 14 हजार 56

प्रत्याशी
3 लाख 52 हजार 114

जिला पंचायत सदस्य
674 सीटों पर 10,627 उम्मीदवार

क्षेत्र पंचायत सदस्य
18,530 सीटों पर 89,188 उम्मीदवार

ग्राम प्रधान
14,379 सीटों पर 1,17,789 उम्मीदवार

ग्राम पंचायत वार्ड
1,80,473 सीटों पर 1,34,510 उम्मीदवार

वोटर
3 करोड़ 5 लाख71 हजार 613

मतदान केन्द्र
20,727

मतदेय स्थल
49,798

उधर जिन जिलों में मतदान हो चुके हैं वहां कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ गया है। चुनाव और मतदान के दौरान इन जिलों में जमकर कोविड प्रोटोकाॅल और सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ी थीं। बता दें कि इन दिनों यूपी में कोरोना के मामले लगातार बेतहाशा बढ़ रहे हैं और मौतों की संख्या रोज नए रिकाॅर्ड बना रही है।

 

चुनाव में बांटी गयी शराब, पीने से चार की मौत

मेरठ. यूपी पंचायत चुनाव मतदान से ठीक पहले सोमवार को वोटरों को लुभाने के लिए बांटी गई जहरीली शराब पीने से मेरठ में चार लोगों की मौत का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि एक प्रत्याशी ने मतदान से ठीक पहले अपने पक्ष में वोट डालने के लिए शराब बांटी थी, जिसे पीने से चार लोगों की मौत हो गई, जबकि दो की हालत गंभीर है। ग्रामीणों ने दो मृतकों को गुपचुप तरीके से अंतिम संस्कार भी कर दिया। इसकी सूचना मिलते ही पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दो मृतकों के शव पोस्टमार्टम के लिए भेजे। जहरीली शराब से मौत की सूचना से आबकारी विभाग से लेकर प्रशासन तक में हड़कंप मच गया। मामले की जानकारी मिलते पुलिस बल के साथ आला अधिकारी मौके पर पहुंचकर जांच में जुट गए।

More from उत्तर प्रदेशMore posts in उत्तर प्रदेश »

Be First to Comment

    Thanks to being part of My Daily Bihar News .

    %d bloggers like this: