Press "Enter" to skip to content

Quick Read: 700 से ज्यादा नकली रेमडेसिविर बेचकर किया जिंदगी से खिलवाड़, एक इंजेक्शन पर 15 से 20 हजार की कमाई [Source: Patrika : India’s Leading Hindi News Portal]

सस्ते इंजेक्शन पर रेमडेसिविर का लेबल लगाकर बेचने वाले गिरफ्तार

लखनऊ. कोरोना (Corona Virus) से संक्रमित मरीजों के इलाज में कारगर रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी से जुड़े एक मामले में लखनऊ की पुलिस ने एक गिरोह को गिरफ्तार किया है। पुलिस कमिश्नर डी.के ठाकुर ने कहा कि अमीनाबाद पुलिस ने पांच लोगों को गिरफ्तार किया है जो एक सस्ते इंजेक्शन पर रेमडेसिविर इंजेक्शन का लेबल लगाकर उसे 15 से 20,000 रुपए में बेचते थे।पुलिस की पूछताछ में सामने आया है कि यह गिरोह 700 से ज्यादा फर्जी रेमडेसिविर इंजेक्शन बेचकर लोगों को ठग चुका है और मरीजों की जान को भी संकट में डाल चुका है। यह गिरोह 98 रुपये के पीपीटी 4.5 जीएम इंजेक्शन पर रेमडेसिविर इंजेक्शन का लेबल लगाता था। रेमडेसिविर के एक इंजेक्शन की कीमत 4,800 रुपए है जिसे यह गिरोह 15 से 20,000 रुपए में बेच कर काली कमाई करता था। पुलिस ने आरोपियों से रेमडेसिविर इंजेक्शन की 59 शीशी, पीपीटी 4.5 जीएम के 240 पैकेट इंजेक्शन और रेमडेसिविर इंजेक्शन के 4,224 लेबल बरामद किए हैं।

कोरोना संक्रमण के मद्देनजर बिजली कर्मचारियों का आंदोलन स्थगित

लखनऊ. संविदा बिजलीकर्मियों ने एक मई को प्रस्तावित आंदोलन को स्थगित कर दिया है। बिजली कर्मियों ने ऊर्जा प्रबंधन से कर्मचारियों की मांगों पर जल्द अमल करवाने की मांग की है। यूपी पॉवर कॉर्पोरेशन निविदा एवं संविदा कर्मचारी संघ के महामंत्री देवेंद्र पांडेय ने कहा है कि कोरोना संक्रमण की मौजूदा स्थिति को देखते हुए जनहित में ईको गार्डन में होने वाले प्रदेशव्यापी धरना प्रदर्शन को आगे के लिए टाल दिया गया है। इसी के साथ उन्होंने आरोप लगाया कि ऊर्जा प्रबंधन की ओर से जारी कोविड-19 से बचाव के आदेश केवल कागजों और फाइलों में चल रहे हैं। जबकि हकीकत में संविदाकर्मियों को न ग्लव्ज मिल रहे और न ही जरूरत के अनुसार मास्क और फेस शील्ड। कर्मचारी संक्रमण से बचाव के लिए खुद ही इंतजाम करने को मजबूर हैं।

पति के शव के लिए पत्नी को देने पड़े तीन हजार रुपये

गोरखपुर. गोरखनाथ थाना क्षे़त्र के हड़हवा फाटक हुमायूंपुर उत्तरी निवासी कमलेश राजघाट पुल के पास बेहोशी की हालत में पुलिस को मिला था। उसे बाबा राघवदास मेडिकल कालेज ले जाया गया। जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। शिनाख्त न होने के कारण लावारिश दिखाकर शव को पोस्‍टमार्टम हाउस में रख दिया गया। रविवार सुबह पत्नी किरन और परिवार के अन्य सदस्यों ने शव की शिनाख्त की। इसके बाद शव पोस्टमार्टम हाउस ले जाया गया। आरोप है कि वहां के कर्मचारी ने उनसे 4500 रुपये मांगे। रुपये न मिलने पर शव देने से इंकार कर दिया। बाद में बीच का रास्ता निकाला गया और तीन हजार रुपये देने पर शव मिला। कमलेश के परिवार वालों ने रुपये मांगने की शिकायत नगर निगम के उपसभापति ऋषि मोहन वर्मा से की। उपसभापति ने कहा कि सीएमओ ने कर्मचारी के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन दिया लेकिन कर्मचारी नहीं माना और तीन हजार रुपये देने ही पड़े। सीएमओ डा. सुधाकर पांडेय ने कहा कि शिकायत मिली है। मामले की जांच कराई जाएगी।

दुष्कर्म के आरोप में मकान मालिक का बेटा गिरफ्तार

गोरखपुर. गोरखनाथ क्षेत्र में नानी के साथ किराए के मकान में रह रही 12 वर्षीय बालिका के साथ मकान मालिक के बेटे मोनू ने दुष्कर्म किया। सोमवार सुबह गोरखनाथ पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। दरअसल, कुशीनगर जिले की रहने वाली 12 वर्षीय बालिका अपनी नानी के साथ गोरखनाथ क्षेत्र में किराए के मकान में रहती थी। शनिवार की दोपहर में मकान मालिक के बेटा मोनू उर्फ विनय गुप्ता बालिका को अकेला पाकर खेलने के बहाने कमरे में ले गया। यहां बंधक बनाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। शोर मचाने पर जान से मारने की धमकी दी। किसी तरह उससे जान बचाने के बाद खून से लथपथ पीड़िता अपनी नानी के पास पहुंची और घटना की जानकारी दी। पीड़िता की हालत खराब होने पर उसे मेडिकल कालेज में भर्ती किया गया। उधर, घटना के बाद आरोपित घर से फरार हो गया। उसके खिलाफ तहरीर दी गई है। तहरीर के आधार पर गोरखनाथ पुलिस ने आरोपी के खिलाफ दुष्कर्म और पॉक्सो एक्ट का मुकदमा दर्ज किया गया है।

19 जोड़ी ट्रेनों का संचालन निरस्त

प्रयागराज. भारतीय रेलवे ने 19 जोड़ी ट्रेनों को निरस्त कर दिया है। इन स्पेशल ट्रेनों में प्रयागराज संगम-कानपुर सेंट्रल-प्रयागराज संगम स्पेशल भी शामिल है। ट्रेन नंबर 04101/04102 प्रयागराज संगम-कानपुर सेंट्रल-प्रयागराज संगम को 26 अप्रैल से निरस्‍त कर दिया गया है। 04124 कानपुर सेंट्रल-प्रतापगढ़ स्पेशल ट्रेन को भी 26 अप्रैल से, 04123 प्रतापगढ़-कानपुर सेंट्रल को 27 अप्रैल से अगले निर्देश तक निरस्त किया गया है। इसके अलावा 04213/04214 लखनऊ-कानपुर सेंट्रल-लखनऊ स्पेशल और 04327/04328 सीतापुर सिटी-कानपुर सेंट्रल-सीतापुर सिटी स्पेशल 25 अप्रैल से निरस्‍त है। दरअसल, कोरोना काल में यात्री ट्रेनों से सफर नहीं कर रहे हैं। इससे रेलवे को नुकसान हो रहा है। इसलिए रेलवे ने कुछ समय के लिए ट्रेनों के संचालन को रोक दिया है।

पेट्रोल पंप कर्मचारी से दिनदहाड़े आठ लाख रुपये की लूट

रायबरेली. जिले की महाराजगंज कोतवाली के एक गांव में एक पेट्रोल पंप कर्मचारी से आठ लाख रुपये की लूट हो गई। जिले की महराजगंज कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत कुसुढ़ी सागरपुर गांव स्थित मैनेजर बैंक में कैश जमा करने जा रहे थे, तभी कुबना नैय्या नाला जंगल के पास पेट्रोल पंप कर्मचारी से दिनदहाड़े असलहे की बट पर दो बाइक सवार लुटेरों ने लूट की घटना को अंजाम दिया और वहां से भाग निकले। बदमाशों ने कर्मचारी को बंदूक दिखाकर लूट की घटना को अंजाम दिया। वारदात के बाद बाइक सवार बदमाश घटनास्थल से करीब दो किलोमीटर आगे बाइक छोड़कर फरार हो गए। हालांकि, पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से दो अलग-अलग गांव में दोनों लुटेरों को पकड़ लिया।

ये भी पढ़ें: Quick Read: प्रधान पद के प्रत्याशी की मौत के बाद पंचायत का चुनाव रद्द

ये भी पढ़ें: Quick Read: छह साल पुराने मामले में पूर्व मंत्री का भतीजा गिरफ्तार, धोखाधड़ी का आरोप

More from उत्तर प्रदेशMore posts in उत्तर प्रदेश »

Be First to Comment

    Thanks to being part of My Daily Bihar News .

    %d bloggers like this: