Press "Enter" to skip to content

JEE मेन्स, JEE एडवांस और NEET भी पोस्टपोन, अब 1 से 27 सितंबर के बीच होंगी तीनों परीक्षाएं



देश में कोरोना लॉकडाउन के चलते निरस्त हुई बोर्ड परीक्षाओं के बाद अब JEE और NEET एंट्रेंस एग्जाम को भी टाल दिया गया है। शुक्रवार शामकेंद्रीय मंत्री ने केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने ट्वीट कर बताया कि अब ये तीनों परीक्षाएं सितंबर में आयोजित की जाएंगी।जेईई मेन का आयोजन 18 जुलाई से 23 जुलाई और नीट 2020, 26 जुलाई को आयोजित किया जाना था लेकिन अब ये तीनों ही 1 से 27 सितंबर के बीच होगी।

स्टूडेंट्स और पैरेंट्स के निवेदन के मद्देनजर मंत्रालय ने इन परीक्षाओं का स्थिति के आकलन के लिए विशेषज्ञ की एक कमेटी गठित की थी, जिसने आज मंत्रालय को अपनी रिपोर्ट सौंप दी और उसके बाद इन्हें आगे बढ़ाने का फैसला लिया गया।

इन परीक्षाओं की तारीखों में ये बदलाव हुआ

एंट्रेस एग्जामपहले की तारीखनई तारीख
JEE Main18 से 23 जुलाई1 से 6 सितंबर
JEE Advance 23 अगस्त27 सितंबर
NEET 26 जुलाई13 सितंबर
  • केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने दी थीजानकारी

CSBE की बची परीक्षा रद्द होने के बाद से हीनीट और जेईई को लेकर स्टूडेंट्स ने सोशल मीडिया पर मुहिम भी चला रखी है।मिडिल ईस्ट के देशों के स्टूडेंस के पैरेंट्स ने भी विदेश में परीक्षा केंद्र बनानेया परीक्षा टालनेको लेकर सुप्रीम कोर्टमें याचिका दायर की हुईहै।

  • JEE और NEET पर दोएक्सपर्ट की राय

​​​​​​​इंजीनियरिंग की सबसे बड़ी परीक्षा-ज्वॉइंट एंट्रेस एग्जाम(JEE)एक्सपर्ट विकास लोया कहते हैं :जेईई परीक्षा को लेकर 12वीं में कुछ न्यूनतम परसेंटेज का क्राइटेरिया रहता है। उम्मीद है एमएचआरडी इस क्राइटेरिया में इस साल छूटदेगा। क्योंकि इंटरनल असेसमेंटमें ये आकलन करना जरा मुश्किल है कि कौन स्टूडेंट उस क्राइटेरिया को पूरा कर पाएगा कौन नहीं?

मेरा आकलन है कि JEE की परीक्षा भले ही देरी से होगी पर होगी जरूर। वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए JEE MAINS और JEE ADVANCE परीक्षा को अधिक शिफ्ट्स में बांटने की आवश्यकता है। सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखते हुए बच्चों कोमोटिवेटेड बनाएरखना सबसे ज़रूरी है।

​​​​​​​मेडिकल की सबसे बड़ी परीक्षा-नेशनल एलिजिबिलिटी कमएंट्रेंस टेस्ट (NEET) एक्सपर्ट अमित गुप्ता के अनुसार:जो स्टूडेंट गंभीरता से पढ़ाई करते हैं। वे चाहते थे कि 12वीं के सभी पेपर हों। ऐसे में अगर वो नीट की भी तैयारी कर रहे हैं, तो उनका ज्यादा आत्मविश्वास गिरने का डर है। इसके अलावा पॉलिसी लेवल पर भी कई चुनौतियां हैं। मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया की गाइडलाइन है कि नीट देने के लिए बायोलॉजी के पेपर में पास होना जरूरी है।

ऐसे में सवाल ये है कि जिन स्टूडेंट्स का बायोलॉजी विषय का पेपर छूट गया है, क्या वे नीट दे सकेंगे? सरकार के स्तर पर यह स्थिति स्पष्ट होनी चाहिए।परीक्षा जल्दी करानी है तो इसे शिफ्ट्स में बांटना होगा।

    <br><br>
        <a href="https://f87kg.app.goo.gl/V27t">Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today</a>
    <section class="type:slideshow">
                    <figure>
            <a href="https://www.bhaskar.com/career/news/jee-main-jee-advanced-and-neet-entrance-exam-postpone-now-all-three-exams-will-be-held-in-september-127473598.html">
                <img border="0" hspace="10" align="left" src="https://i10.dainikbhaskar.com/thumbnails/891x770/web2images/www.bhaskar.com/2020/07/03/neet-2020-1_1593787756.jpg">
            <figcaption>#JEE &amp; #NEET exam postpone | JEE Main between 1st-6th Sept, JEE advanced on 27th Sept &amp; NEET examination will be held on 13th Sept.</figcaption>
            </a> 
        </figure>
                </section>
More from Career & JobsMore posts in Career & Jobs »

Be First to Comment

    Thanks to being part of My Daily Bihar News .

    %d bloggers like this: