Press "Enter" to skip to content

IIT Admission 2020: जरूरी नहीं 75 फीसदी मार्क्स, सिर्फ पास पर भी मिलेगा दाखिला!

IIT Admission 2020: अब तक आईआईटी में प्रवेश के लिए जेईई अडवांस्ड रैंक होल्डर का 12वीं कक्षा में 75 फीसदी न्यूनतम अंक या टॉप 20 पर्सेंटाइल होना जरुरी था। एससी/एसटी कैंडिडेट्स के 12वीं में कक्षा में न्यूनतम 65 फीसदी अंक या टॉप 20 पर्सेंटाइल तभी उनको आईआईटी में दाखिला मिल सकता है। लेकिन कोरोनाकाल के चलते अब सीबीएसई और सीआईएससीई ने अपनी 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं को रद्द कर दिया है। दोनों बोर्ड ने बाकी परीक्षाओं के लिए मूल्यांकन के वैकल्पिक तरीके का ऐलान भी कर दिया है। ऐसे में विद्यार्थियों द्वारा परीक्षा में प्राप्त किये जाने वाले अंक प्रवेश पात्रता के लिए पर्याप्त नहीं हो सकते।

न्यूनतम 75 फीसदी मार्क्स जरूरी नहीं
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार जॉइंट इंप्लिमेंटेशन कमिटी की बैठक हुई। जेआईसी की बैठक में सभी आईआईटीज के जेईई चेयरपर्सन शामिल रहे। मीटिंग के दौरान, जेईई के चेयरपर्सनों ने यह प्रस्ताव रखा कि कोविड-19 के प्रभाव को देखते हुए सभी बोर्ड ने जरुरी कदम उठाए हैं। बोर्ड के निर्णयों को देखते हुए संबंधित 12वीं कक्षा में मार्क्स के कुछ नियमों को हटा देना चाहिए। इस साल जेईई अडवांस्ड क्लियर करने वाले कैंडिडेट्स के लिए सिर्फ बोर्ड एग्जाम पास होने का नियम ही बनाया जाए यानी अब यह मायने नहीं रखना चाहिए कि कितने प्रतिशत अंक हासिल किये बल्कि रैंक होल्डर ने 12वीं पास कर लिया है, इतना ही काफी है।’ उन्होंने बताया कि यह छूट सिर्फ एक बार के लिए होगी। क्योंकि बारहवीं बोर्ड परीक्षा कोरोना के चलते प्रभावित हुई है।

More from Career & JobsMore posts in Career & Jobs »

Be First to Comment

    Thanks to being part of My Daily Bihar News .

    %d bloggers like this: