Press "Enter" to skip to content

Covid-19 में बदला काम करने का तरीका, ‘रिमोट वर्किंग’ से मिलेगा मुनाफा

इन दिनों आइसोलेशन के दौर में देश-दुनिया की तमाम छोटी-बड़ी कंपनियां काम करने के नए-नए तरीके अपना रही हैं। अब ‘रिमोट वर्किंग’ काम का नया तरीका बन गया है। बदले हुए माहौल और भविष्य की चिंताओं के कारण कर्मचारियों के मन में भय है। इस नए माहौल में कंपनियों को कर्मचारियों के लिए नए तरीकों को अपनाना बेहद जरूरी है। कई कम्पनियां कर्मचारियों को प्रोत्साहित करने का प्रयास भी कर रही हैं। कम्पनियां स्किल डवलपमेंट ट्रेनिंग, प्रोडक्ट और सर्विसेज से जुड़ी ऑनलाइन क्लासेज, मैनेजमेंट स्किल्स तथा लिट्रेचर के साथ कुछ अन्य ऑनलाइन मजेदार चीजों से अपने कर्मचारियों को प्रोडक्टिव बनने के लिए प्रेरित कर सकती हैं।

एक-दूसरे पर विश्वास
नई वास्तविकता से तालमेल बिठाने के लिए कंपनी व कर्मचारियों को ‘नियंत्रण की जगह देखभाल’ वाला सिद्धांत अपनाने की जरूरत है। इस बारे में उषा इंटरनेशनल के प्रेसीडेंट माधव मणि बताते हैं कि इस फार्मूले के तहत एक दूसरे की भावना को समझना और ट्रांसपेरेंट कन्वर्सेशन को बेहतर ढंग से प्रदर्शित करने में मदद मिलती है।

प्रोफेशनल स्किल्स
ऑनलाइन इंटरैक्टिव प्रशिक्षण कार्यक्रम स्किल्स को बढ़ाने में सहायक होते हैं। लीडर्स को उन्हें निखारने में मदद करनी चाहिए। अपने कर्मचारियों को कई तरह की भूमिका, विशिष्ट कौशल प्रशिक्षण मॉड्यूल से रूबरू कराएं जो उनके मौजूदा कौशल को बढ़ाने में मदद करेगी।

ऑर्गनाइजेशनल नॉलेज
हर कर्मचारी संस्थान के बारे में उपलब्ध सभी जानकारियों को ग्रहण करे और उसके बारे में जाने। यह कंपनी का मिशन, विजन, उत्पाद व सेवाओं से जुड़ा ज्ञान हो सकता है। इस तरह का प्रशिक्षण इंटरैक्टिव सेशंस, ट्रेनिंग वीडियो और मजेदार क्विज के माध्यम से दिया जा सकता है।

पर्सनल डवलपमेंट
वर्क फ्रॉम होम का माहौल लोगों को व्यक्तिगत तौर पर भी बढऩे में मदद करने के लिए शानदार समय है। लीडर्स को अपने कर्मचारियों को पर्सनल डवलपमेंट ट्रेनिंग मुहैया करवानी चाहिए। उनके अंदर फोकस, सहानुभूति की शक्ति, नेतृत्व करने की क्षमता विकसित होगी।

टीम वर्क
टीम लीडर्स के लिए टीम भावना का निर्माण करने का यह सबसे उचित समय है। ऑनलाइन प्लैटफॉर्म और चैनल्स का इस्तेमाल करते हुए टीम लीडर्स रोचक जानकारी साझा कर सकते हैं, उत्पाद और सेवाओं से जुड़ी क्विज खेल सकते हैं और रोजाना प्रतियोगिता रख सकते हैं।

हीरोज को ईनाम दें
संकट के दौरान हमेशा कुछ लोग ऐसे होते हैं जो असाधारण कार्य या आश्चर्यजनक नेतृत्व का प्रदर्शन कर अपनी एक अलग पहचान बनाते हैं। मैनेजर्स के लिए अच्छा होगा कि ऐसे लोगों की पहचान कर सहयोगियों और ग्राहकों की मदद के लिए अतिरिक्त प्रयास करने वालों को ईनाम दिया जाए।

More from Career & JobsMore posts in Career & Jobs »

Be First to Comment

    Thanks to being part of My Daily Bihar News .

    %d bloggers like this: