Press "Enter" to skip to content

60 साल में पहली बार गोंदा नहर बनेगी पक्की, 7 गांव को मिलेगा पानी [Source: Dainik Bhaskar]



हजारीबाग के गोंदा डैम से निकले नहर का लगभग छह दशक के बाद जीर्णोद्धार किया जा रहा है। 1960 के दशक में डीवीसी ने गोंडा नदी पर बांध बनाकर इससे सिंचाई नहर निकाला था। निर्माण के बाद इसमें नहर की सफाई छोटे स्तर पर कराई जाती रही। पहली बार जल पथ प्रमंडल उक्त नहर का जीर्णोद्धार कार्य करा रहा है। लगभग 11 करोड़ रुपए की लागत से हर्षवर्धन हाइटेक कंस्ट्रक्शन कंपनी प्राइवेट लिमिटेड को जीर्णोद्धार का कार्य मिला है।

जीर्णोद्धार के तहत मुख्य और शाखा नहर का पक्की करण कराया जा रहा है। मुख्य नहर में कस्तुरीखाप से सलगांवां मार्ग में एक पुलिया का भी निर्माण कराया जा रहा है। मुख्य नहर पर किए गए अतिक्रमण को तोड़ा गया है। मुख्य नहर के दोनों तटबंध पर लगभग 15-15 फीट की कच्ची सड़क बन रही है। इसपर ट्रक, ट्रैक्टर जैसे वाहन आसानी से चल सकते हैं। नहर जीर्णोद्धार कार्य पूर्ण होने होने पर किसान उक्त सड़क का इस्तेमाल अपनी तैयार फसलों को ढोने के लिए कर सकते हैं।

चौड़े तटबंध से जमीन कारोबारियों में भी खुशी

कदमा, पेलावल, गदोखर जैसे गांव शहर से सटे हुए हैं। इनमें कृषि योग्य भूमि की खरीद बिक्री घर बनाने के लिए होने लगी है। नहर के चौड़े तटबंध को बनते देख जमीन कारोबारी भी खुश हैं कि आने वाले कुछ वर्षों में फसल पैदा होना बंद होगा तो तटबंध का रास्ता ही जमीन तक पहुंचने के लिए पहुंच पथ के काम आएगा।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


For the first time in 60 years, Gonda canal will be built, 7 villages will get water

More from झारखंड खबरMore posts in झारखंड खबर »

Be First to Comment

    Thanks to being part of My Daily Bihar News .

    %d bloggers like this: