Press "Enter" to skip to content

24 घंटे में मिले 54 नए कोरोना के मरीज, अब तक 2492 पॉजिटिव केस; राज्य में कुल संक्रमितों में से 1884 हो चुके स्वस्थ




राज्य में 24 घंटे में 54 नए कोरोना के मरीज मिले हैं। नए मरीजों के मिलने के बाद कुल पॉजिटिव केस की संख्या बढ़कर 2492 हो गई है। मंगलवार को मिले नए मरीजों में सबसे अधिक 25 मरीज सरायकेला में मिले हैं। राज्य के कुल संक्रमितों में 1884 यानी 75.60 प्रतिशत स्वस्थ भी हो चुके हैं। राज्य में कोरोना संक्रमण की दर लगातार घट रही है। अब यह घटकर 1.7 हो गई है जो राष्ट्रीय औसत (3.68) के आधे से भी कम है। 15 दिनों में रिकवरी रेट में भी सुधार हुआ है। उधर, राज्य में अब तक मिले कुल मरीजों में 1974 मरीज ऐसे हैं जो एक मई के बाद दूसरे राज्यों से लौटे प्रवासी हैं। यानी राज्य के कुल मरीजों में 79.21 फीसदी प्रवासी हैं।

28 जून को रिकवरी रेट 75.60 फीसदी पर पहुंच गया, जबकि राष्ट्रीय स्तर पर रिकवरी रेट 58.56 प्रतिशत है। मरीजों के लगातार स्वस्थ होने की दर काफी बेहतर इजाफा होने के कारण रिकवरी रेट के मामले में झारखंड देश के टॉप पांच राज्यों में शामिल हो चुका है। यही कारण है कि राज्य में एक्टिव केस की संख्या घटकर 608 रह गई है।

उधर,कोल्हान प्रमंडल के तीन जिलों को मिलकर 526 मरीज हो चुके हैं। इनमें पूर्वी सिंहभूम में अकेले 395 मरीज हैं जो राज्य में किसी जिले में सबसे ज्यादा हैं। वहीं कोल्हान के पश्चिमी सिंहभूम में 58 और सरायकेला खरसावा में अब तक 73 मरीज मिल चुके हैं। राज्य में सबसे ज्यादा संक्रमितों में सिमडेगा दूसरे नंबर पर हैं। यहां अब तक 353 कोरोना संक्रमित मरीज मिल चुके हैं। यानी सिमडेगा और पूर्वी सिंहभूम जिला में मिलकर अब तक कुल 748 मरीज मिल चुके हैं इनमें 598 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। पूर्वी सिंहभूम में अब तक 255 जबकि सिमडेगा में 343 मरीज ठीक हो चुके हैं।

तस्वीर भवनाथपुर की। कोरोना योद्धा के रूप में कार्यरत भवनाथपुर थाना में पुलिस कर्मियों का कोरोना की जांच के लिए सैंपल लिया गया। इस संबंध में अस्पताल के प्रभारी डॉक्टर दिनेश सिंह ने बताया कि सभी सरकारी कर्मचारी सहित जिनकी भी जांच नहीं हुई है, वैसे सभी लोगों का सैंपल लेना है।

सरकार ने कोर्ट में कहा- श्रावणी मेले का आयोजन नहीं कर सकते, बढ़ेगा संक्रमण
देवघर में श्रावणी मेले के आयोजन पर हाईकोर्ट में फैसला सुरक्षित रख लिया गया है। कोर्ट तीन जुलाई को फैसला सुनाएगा। इससे पहले मंगलवार को चीफ जस्टिस डॉक्टर रवि रंजन और जस्टिस सुजीत नारायण प्रसाद की खंडपीठ में सुनवाई हुई। महाधिवक्ता राजीव रंजन ने सरकार का पक्ष रखा। महाधिवक्ता ने कहा कि श्रावणी मेले का आयोजन नहीं कर सकते। इससे कोरोना का संक्रमण बढ़ेगा क्योंकि मेला शुरू होने के बाद इसे रोका नहीं जा सकता। झारखंड में कोरोना चरम पर है। ऐसे में सरकार कोई रिस्क नहीं लेना चाहती। इस मेले में देश-विदेश से श्रद्धालु आते हैं। इससे कानून-व्यवस्था का भी संकट पैदा हो सकता है। वैसे भी देवघर का बाबा वैद्यनाथ मंदिर और बासुकीनाथ मंदिर 31 जुलाई तक बंद है।

याचिका में ओडिशा में भगवान जगरनाथ की रथयात्रा की दलील पर उन्होंने कहा कि वह एक दिन का आयोजन था, जिसमें आम श्रद्धालुओं ने हिस्सा नहीं लिया था। श्रावणी मेला 30 दिन का होता है। उधर, याचिकाकर्ता निशिकांत दुबे के वकील ने कहा कि कुछ शर्तों के आधार पर श्रावणी मेले का आयोजन होना चाहिए क्योंकि यह मेला धर्म से जुड़ा है।

राज्य के सभी 24 जिलों में पहुंच चुका है कोरोना संक्रमण
कोरोनावायरस का संक्रमण राज्य के सभी 24 जिलों तक पहुंच चुका है। राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 2490 है। इनमें बोकारो के 46, चतरा के 47, देवघर के 44, धनबाद के 167, दुमका के 08, पूर्वी सिंहभूम के 392, गढ़वा के 103, गिरिडीह के 92, गोड्डा के 9, गुमला के 117, हजारीबाग के 192, जामताड़ा के 28, खूंटी के 28, कोडरमा के 176, लातेहार के 54, लोहरदगा के 57, पाकुड़ के 31, पलामू के 51, रामगढ़ के 121, रांची के 224, साहेबगंज के 12, सरायकेला के 78, सिमडेगा के 353 और पश्चिमी सिंहभूम के 58 मरीज शामिल हैं।

अब तक राज्य में 18 संक्रमितों की मौत
राज्यभर में कोरोना से मरने वालों की संख्या 18 है। इनमें रांची के आठ, हजारीबाग के तीन, बोकारो और गिरिडीह के दो-दो, जबकि गुमला, सिमडेगा, कोडरमा के एक-एक मरीज की मौत हो चुकी है। प्रशासन राज्य में रिटायर्ड डीडीसी और बंगाल के एक मजदूर की मौत को आंकड़े में शामिल नहीं किया है।

राज्य में अब तक 1884 मरीज हो चुके हैं स्वस्थ
राज्य में कोरोना संक्रमित मरीजों में कुल 1884 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। इनमें बोकारो के 27, चतरा के 41, देवघर के 30, धनबाद के 111, दुमका के चार, पूर्वी सिंहभूम के 217, गढ़वा के 97, गिरिडीह के 80, गोड्डा के 08, गुमला के 70, हजारीबाग के 135, जामताड़ा के 23, खूंटी के 27, कोडरमा के 142, लातेहार के 49, लोहरदगा के 45, पाकुड़ के 30, पलामू के 50, रामगढ़ के 113, रांची के 165, सरायकेला के 33, साहेबगंज के तीन, सिमडेगा के 343 और पश्चिमी सिंहभूम के 51 मरीज स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं।

राज्य में कुल संक्रमितों में 1974 प्रवासी
राज्य के कुल कोरोनावायरस संक्रमितों में 1974 लोग प्रवासी हैं। इनमें बोकारो के 25, चतरा के 41, देवघर के 37, धनबाद के 111, दुमका के 7, पूर्वी सिंहभूम के 281, गढ़वा के 95, गिरिडीह के 79, गोड्डा के 6, गुमला के 110, हजारीबाग के 176, जामताड़ा के 26, खूंटी के 28, कोडरमा के 172, लातेहार के 53, लोहरदगा के 54, पाकुड़ के 29, पलामू के 47, रामगढ़ के 116, रांची के 29, साहेबगंज के 4, सरायकेला के 44, सिमडेगा के 346 और पश्चिमी सिंहभूम के 58 प्रवासी शामिल हैं।

 <br><br>
        <a href="https://f87kg.app.goo.gl/V27t">Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today</a>
    <section class="type:slideshow">
                    <figure>
            <a href="https://www.bhaskar.com/local/jharkhand/news/coronavirus-jharkhand-live-updates-cases-latest-news-ranchi-koderma-hazaribagh-simdega-ramgarh-garhwa-gumla-dhanbad-july-1-127466103.html">
                <img border="0" hspace="10" align="left" src="https://i10.dainikbhaskar.com/thumbnails/891x770/web2images/www.bhaskar.com/2020/07/01/ranchi_1593580188.jpg">
            <figcaption>तस्वीर रांची नगर निगम की। रांची में मंगलवार को हूल दिवस की छुट्टी के बावजूद रांची नगर निगम के जनसुविधा केंद्र खोले गए, ताकि लोग होल्डिंग टैक्स जमा कर सकें। निगम की इस सुविधा का लाभ लेने के लिए कचहरी और डोरंडा स्थित निगम कार्यालय से लेकर सड़क तक लोगों की लंबी लाइन लग गई। हालांकि इस दौरान लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल नहीं रहा।</figcaption>
            </a> 
        </figure>
                </section>
More from National NewsMore posts in National News »
More from झारखंड खबरMore posts in झारखंड खबर »

Be First to Comment

    Thanks to being a part of My Daiky bihar news .

    %d bloggers like this: