Press "Enter" to skip to content

10वीं पास आंगनबाड़ी कार्यकर्त्रियों के लिये बड़ी खुशखबरी, प्री प्राइमरी में पढ़ाने का मिलेगा मौका [Source: Patrika : India’s Leading Hindi News Portal]

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

लखनऊ. आंगनबाड़ी कार्यकर्त्रियों के लिये खुशखबरी है। अब उन्हें प्री प्राइमरी में पढ़ाने का मौका मिलेगा। उनकी ट्रेनिंग भी जल्द ही शुरू होगी। ट्रेनिंग के लिये सरकार की ओर से धनराशि भी जारी कर दी गई है। हालांकि उन्हीं आंगनबाड़ी कार्यकर्त्रियों को प्री प्राइमरी में पढ़ाने का मौका मिलेगा जो हाई स्कूल पास होंगी। इसके अलावा स्मार्टफोन होना और उसे चलाना भी आना चाहिये। उनका प्रशिक्षण इस तरह से होगा कि वो प्री प्राइमरी के बच्चों को कहानी और भाव कौशल के जरिये बेहतर ढंग से पढ़ा सकें।

सरकार के ऐलान के मुताबिक आंगनबाड़ी केन्द्रों को प्री प्राइमरी स्कूलों में बदलने के क्रम में जल्द ही प्री प्राइमरी कक्षाओं की पढ़ाई भी शुरू होने की कवायद तेज हो गई है। इसके लिये ब्लाॅक स्कतर पर 4 रिसोर्स पर्सन चुने जाने हैं। इनमें दो मुख्य सेविका एक-एक आंगनबाड़ी कार्यकर्त्री और एक एआरपी शामिल होंगी। इसमें वही आंगनबाड़ी कार्यकर्त्री चुनी जाएंगी जो हाई स्कूल यानि 10वीं पास होंगी और स्मार्टफोन का इस्तेमाल अच्छी तरह से आता होगा। इसके अलावा विभाग के काम में सक्रिय रहती हों तो इसका भी फायदा मिलेगा।

जिन कार्यकर्त्रियों ने विभागीय प्रशिक्षण प्राप्त किये हो या फिर प्रशिक्षण दिया हो उन्हें इसमें वरीयता दी जाएगी। कोरोना संक्रमण के चलते कोविड प्रोटोकाॅल का पालन करते हुए ट्रेनिंग 20-20 के ग्रूप में दी जाएगी। डायट मेंटर इस ट्रेनिंग प्रोग्राम में मुख्य भूमिका में होंगे। चार दिवसीय प्रशिक्षण की निगरानी डायट प्राचार्य की अध्यक्षता में गठित माॅनिटरिंग कमेटी करेगी।

प्री प्राइमरी की ट्रेनिंग में केन्द्र की साज सज्जा से लेकर पढ़ाने के तरीकों पर जोर दिया जाएगा। इसके लिये माॅड्यूल एससीईआरटी ने तैयार किया हैं प्रशिक्षण में भाव कौशल और कहानी वाचन पर जोर दिया जाएगा। कहान के जरिये अभिव्यक्ति सिखाई जाएगी।

More from उत्तर प्रदेशMore posts in उत्तर प्रदेश »

Be First to Comment

    Thanks to being part of My Daily Bihar News .

    %d bloggers like this: