Press "Enter" to skip to content

होम क्वारेंटाइन में तबीयत बिगड़ी, विभाग ने कहा-जड़ीबूटी से कराओ इलाज, मौत

सरायकेला थाना अंतर्गत गुराडीह गांव का रहने वाला 19 वर्षीय अजय पूर्ति बीते 30 मई को गुजरात के ग्रीन जोन से प्रवासी मजदूर के तौर पर वापस लौटा था। सामुदायिक भवन के लेबर रिसिविंग केंद्र में स्वास्थ्य जांच के बाद ग्रीन जोन से लौटे होने के कारण अजय पूर्ति को होम क्वारेंटाइन में भेज दिया गया।होम क्वारेंटाइन के 12वें दिन पर अजय को सिरदर्द, बुखार, गले में दर्द, जीभ में खरखराहट और दस्त की समस्या के बाद ग्राम प्रधान अश्विनी सिंह देव द्वारा स्वास्थ्य विभाग को इसकी त्वरित सूचना दी गई। इसके बाद अनमने तरीके से सहिया साथियों द्वारा दूर से ही अजय का निरीक्षण करते हुए जॉन्डिस की संभावना जताकर जड़ी-बूटी से इलाज करवाने की सलाह दी गई और इसी लापरवाही के बीच होम क्वारेंटाइन पूरा करने के 10 दिनों बाद 25 जून को अजय की मौत हो गई।इसके बाद ग्रामीणों द्वारा कोरोना संदिग्ध होने की आशंका भी जताई जाने लगी। स्वास्थ विभाग की टीम का नहीं पहुंचने पर आक्रोश भी जताया जाने लगा। आक्रोश की लहर उठने की सूचना के बाद मामले की गंभीरता को देखते हुए मौत के 2 दिनों बाद 27 जून को स्वास्थ्य विभाग की टीम जिसमें ब्लॉक अकाउंट मैनेजर दिवाकर झा, लेडीज हेल्थ विजिटर मंजुला राठौर, एएनएम नीलम केरकेट्टा द्वारा गुराडीह ग्राम क्षेत्र का दौरा किया गया और घटना की जानकारी ली। साथ ही आसपास के लोगों का स्वाब सैंपल लिया।
Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

            Health deteriorated in home quarantine, department said - cure with herbs, death<a href="https://www.bhaskar.com/local/jharkhand/jamshedpur/saraikela/news/health-deteriorated-in-home-quarantine-department-said-cure-with-herbs-death-127458868.html">
            <img border="0" hspace="10" align="left" src="https://i9.dainikbhaskar.com/thumbnails/680x588/web2images/www.bhaskar.com/2020/06/29/67_1593393298.jpg">
        </a>
        सरायकेला थाना अंतर्गत गुराडीह गांव का रहने वाला 19 वर्षीय अजय पूर्ति बीते 30 मई को गुजरात के ग्रीन जोन से प्रवासी मजदूर के तौर पर वापस लौटा था। सामुदायिक भवन के लेबर रिसिविंग केंद्र में स्वास्थ्य जांच के बाद ग्रीन जोन से लौटे होने के कारण अजय पूर्ति को होम क्वारेंटाइन में भेज दिया गया।

होम क्वारेंटाइन के 12वें दिन पर अजय को सिरदर्द, बुखार, गले में दर्द, जीभ में खरखराहट और दस्त की समस्या के बाद ग्राम प्रधान अश्विनी सिंह देव द्वारा स्वास्थ्य विभाग को इसकी त्वरित सूचना दी गई। इसके बाद अनमने तरीके से सहिया साथियों द्वारा दूर से ही अजय का निरीक्षण करते हुए जॉन्डिस की संभावना जताकर जड़ी-बूटी से इलाज करवाने की सलाह दी गई और इसी लापरवाही के बीच होम क्वारेंटाइन पूरा करने के 10 दिनों बाद 25 जून को अजय की मौत हो गई।

इसके बाद ग्रामीणों द्वारा कोरोना संदिग्ध होने की आशंका भी जताई जाने लगी। स्वास्थ विभाग की टीम का नहीं पहुंचने पर आक्रोश भी जताया जाने लगा। आक्रोश की लहर उठने की सूचना के बाद मामले की गंभीरता को देखते हुए मौत के 2 दिनों बाद 27 जून को स्वास्थ्य विभाग की टीम जिसमें ब्लॉक अकाउंट मैनेजर दिवाकर झा, लेडीज हेल्थ विजिटर मंजुला राठौर, एएनएम नीलम केरकेट्टा द्वारा गुराडीह ग्राम क्षेत्र का दौरा किया गया और घटना की जानकारी ली। साथ ही आसपास के लोगों का स्वाब सैंपल लिया।

  <br><br>
        <a href="https://f87kg.app.goo.gl/V27t">Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today</a>
    <section class="type:slideshow">
                    <figure>
            <a href="https://www.bhaskar.com/local/jharkhand/jamshedpur/saraikela/news/health-deteriorated-in-home-quarantine-department-said-cure-with-herbs-death-127458868.html">
                <img border="0" hspace="10" align="left" src="https://i10.dainikbhaskar.com/thumbnails/891x770/web2images/www.bhaskar.com/2020/06/29/67_1593393298.jpg">
            <figcaption>Health deteriorated in home quarantine, department said - cure with herbs, death</figcaption>
            </a> 
        </figure>
                </section><img src="https://i9.dainikbhaskar.com/thumbnails/680x588/web2images/www.bhaskar.com/2020/06/29/67_1593393298.jpg" title="होम क्वारेंटाइन में तबीयत बिगड़ी, विभाग ने कहा-जड़ीबूटी से कराओ इलाज, मौत" />
More from National NewsMore posts in National News »
More from झारखंड खबरMore posts in झारखंड खबर »

Be First to Comment

Thanks to being a part of My Daiky bihar news .

%d bloggers like this: