Press "Enter" to skip to content

सेंट्रल यूनिवर्सिटी ऑफ पंजाब में टीचर एजुकेशन को ओपन एजुकेशन रिसोर्स विकसित किए




सेंट्रल यूनिवर्सिटी ऑफ पंजाब के सीनियर फैकल्टी मेंबर व एजुकेशन विभाग के प्रमुख प्रो. एसके बावा ने कोविड -19 के समय में एनसीटीई के लिए शिक्षक-शिक्षा (टीचर एजुकेशन) के लिए ओपन एजुकेशन रिसोर्स (ओईआर) विकसित किए, जो मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा वित्त पोषित है।

प्रो. एस के बावा, आईक्यूएसी निदेशक, एनसीटीई द्वारा गठित कोर समिति के पांच सदस्यों में से एक है। इस समिति ने शिक्षक-शिक्षा के 29 पाठ्यक्रमों में 200 से अधिक मॉड्यूल को विकसित करने में योगदान दिया है।

वीसी प्रो. आरके कोहली ने प्रो. बावा को बधाई दीं। उन्होंने कहा हमारा संकाय यूजीसी मूक्स पाठ्यक्रम और अन्य एमएचआरडी ई-लर्निंग प्लेटफॉर्म के लिए ऑनलाइन सामग्री विकसित करने के लिए लगातार काम कर रहा है।

प्रो. एस.के. बावा ने बताया कि एनसीटीई ने कोविड-19 महामारी के दौरान शिक्षण-अधिगम प्रक्रिया में छात्रों और शिक्षकों की सहायता करने के लिए शिक्षक-शिक्षा के 29 पाठ्यक्रमों में ओपन एजुकेशन रिसोर्स (ओईआर) विकसित किए है।

उन्होंने कहा कि चेयरपर्सन प्रो सरोज शर्मा की अध्यक्षता में गठित समिति ने विभिन्न शिक्षक शिक्षा कार्यक्रमों से संबंधित मुख्य क्षेत्रों की पहचान करके अपनी यात्रा शुरू की।

मुख्य पाठ्यक्रमों की पहचान के बाद अलग-अलग ओईआर को विशेषज्ञों की सहायता से और साथ ही विभिन्न शिक्षण संस्थानों की मदद से विकसित और क्यूरेट किया गया।

उन्होंने कहा कि पंजाब केंद्रीय विश्वविद्यालय ने शिक्षक शिक्षा के चार पाठ्यक्रमों में 80 मॉड्यूल का योगदान दिया है और यह www.ncte.gov.in पर ऑनलाइन उपलब्ध होगा।

उन्होंने यह भी कहा कि सीयूपीबी के शिक्षा विभाग द्वारा शिक्षक शिक्षा में मूक्स पाठ्यक्रम भी एमएचआरडी से वित्तीय सहायता के साथ विकसित किया जा रहा है।

उन्होंने एनसीटीई पोर्टल पर उपलब्ध ओपन एजुकेशन रिसोर्स की मदद से अपने ज्ञान और शिक्षण कौशल को बढ़ाने के लिए और इन संसाधनों का उपयोग करने के लिए छात्रों, शिक्षकों और शिक्षकों को अनुरोध किया।

 <br><br>
        <a href="https://f87kg.app.goo.gl/V27t">Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today</a>
    <section class="type:slideshow">
                </section>

Be First to Comment

    Thanks to being a part of My Daiky bihar news .

    %d bloggers like this: