Press "Enter" to skip to content

सिविल काेर्ट के बर्खास्त कर्मियों के खिलाफ पुलिस जांच में जुटी, केस सही पाया गया तो होगी गिरफ्तारी [Source: Dainik Bhaskar]



कैश फाॅर जस्टिस मामले में पटना सिविल काेर्ट के बर्खास्त 17 कर्मियाें पर अब पुलिसिया शिकंजा कसने वाला है। पटना सिविल काेर्ट के प्रभारी जिला जज, सिरिस्तेदार अमरेन्द्र कुमार सिन्हा के लिखित बयान पर इन कर्मियाें के खिलाफ पीरबहाेर थाना में केस (कांड संख्या 9/ 2021) दर्ज किया गया है। 15 लिपिक और 2 चपरासी पर भ्रष्टाचार निराेधक अधिनियम की धारा 10, 12 व 13 के तहत केस दर्ज किया गया है।

केस का आईओ टाउन डीएसपी सुरेश प्रसाद काे बनाया गया है। पुलिस की जांच में अगर यह केस ट्रू पाया गया ताे फिर इन आराेपियाें की गिरफ्तारी भी तय है। पीरबहाेर थाने की पुलिस ने इस केस की एफआईआर निगरानी की विशेष अदालत काे भेज दी है। इसी काेर्ट में केस की सुनवाई भी हाेगी।

जिन 17 बर्खास्त कर्मियाें पर केस दर्ज हुआ है उनमें शहनाज रिजवी, संजय शंकर, आशीष दीक्षित, संतोष कुमार, रमेंद्र कुमार, मधु राय, मणि देवी, प्रदीप कुमार, सुबोध कुमार सिंह, सुनील कुमार यादव, राजेश कुमार, कुमार नागेन्द्र, विश्वमोहन विजय, मुकेश कुमार, सुबोध कुमार शामिल हैं।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Police engaged in investigation against sacked personnel of civil court, arrest will be made if case is found right

More from बिहार समाचारMore posts in बिहार समाचार »

Be First to Comment

    Thanks to being part of My Daily Bihar News .

    %d bloggers like this: