Press "Enter" to skip to content

विस्तारा एयरलाइंस दिसंबर तक सैलरी में 5 से 20 प्रतिशत तक करेगी कटौती, 40% कर्मचारियों पर होगा इसका असर



नई दिल्ली. विमानन कंपनी विस्तारा ने करीब 40 प्रतिशत कर्मचारियों की सैलरी में इस साल दिसंबर तक पांच से 20 प्रतिशत की कटौती की घोषणा की है। कोरोनावायरस महामारी की वजह से विस्तारा की आमदनी बुरी तरह प्रभावित हुई है। कंपनी में कर्मचारियों की संख्या 4,000 से अधिक है। विस्तारा के प्रवक्ता ने मंगलवार को कहा कि हमारे करीब 60 प्रतिशत कर्मचारियों की सैलरी में कटौती नहीं होगी।

मासिक वेतन में कटौती की योजना लागू की जा रही है

विस्तारा के मुख्य कार्यकारी अधिकारी लेस्ली थेंग ने कर्मचारियों को भेजे ईमेल में कहा है कि एक जुलाई, 2020 से 31 दिसंबर, 2020 तक मैं सैलरी में 20 प्रतिशत की कटौती लूंगा। कर्मचारियों (पायलटों को छोड़कर) की मासिक सैलरी में कटौती की योजना लागू की जा रही है। ग्रेड 5 और 4, 2 के कर्मचारियों की सैलरी में 15 प्रतिशत की कटौती होगी। ग्रेड 3 और 2 के कर्मचारियों तथा ग्रेड 1सी, 3 के लाइसेंसधारी इंजीनियरों के वेतन में 10 प्रतिशत की कटौती होगी। वहीं ग्रेड एक में मासिक 50,000 रुपए या उससे अधिक सीटीसी वाले कर्मचारियों की सैलरी में पांच प्रतिशत की कटौती की जा रही है।

उड़ानों पर यात्रियों की संख्या काफी कम है

उन्होंने कहा कि पायलटों के मामले में जुलाई से दिसंबर 2020 तक उन्हें मासिक मूल उड़ान भत्ता 20 घंटे का मिलेगा। अप्रैल, तक विस्तारा के पायलटों को उड़ान भत्ता प्रति माह 70 घंटे का दिया जा रहा था। यह भत्ता पायलटों के वेतन का एक निश्चित हिस्सा है। थेंग ने कर्मचारियों से कहा कि एयरलाइन अपने मूल नेटवर्क के 30 प्रतिशत से भी कम पर उड़ान भर रही है। कोरोना वायरस की वजह से लागू लॉकडाउन के चलते उसकी उड़ानों पर यात्रियों की संख्या काफी कम है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 की वजह से हमारा वित्तीय प्रदर्शन प्रभावित हुआ है। मांग को कोविड-19 से पहले के स्तर पर पहुंचने में समय लगेगा।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


विमानन कंपनी विस्तारा ने अपने करीब 40 प्रतिशत कर्मचारियों के वेतन में इस साल दिसंबर तक पांच से 20 प्रतिशत की कटौती की घोषणा की है

More from Stock MarketMore posts in Stock Market »

Be First to Comment

Thanks to being a part of My Daiky bihar news .

%d bloggers like this: