Press "Enter" to skip to content

लोवासुकरा में दो साल में भी पूरा नहीं हुआ सोलर प्लांट का काम, 60 में मात्र 16 घराें में ही उजाला

आनंदपुर प्रखंड कार्यालय से 15 किमी दूर रोबोकेरा पंचायत के अंतर्गत लोवासुकरा के लोगों को ढिबरी युग से छुटकारा मिलना मुश्किल हो गया है। गांव में पिछले 2 साल से जेरेडा के तत्वाधान में सन इंफ्रास्ट्रक्चर एजंसी के द्वारा 15 लाख रुपये की लागत से सोलर प्लांट लगाने का कार्य किया जा रहा है। लेकिन दो साल बीतने के बाद भी निर्माण कार्य अधूरा पड़ा हुआ है। ठेकेदार आधा अधूरा कार्य कर चंपत हो गया है।जिसे लेकर ग्रामीण मुंडा चामू सिंह ने ग्रामीणों का संयुक्त हस्ताक्षरयुक्त लिखित शिकायत आवेदन का उपायुक्त एंव डीडीसी को सौंपकर का मन बनाया है। बताते चलें कि लोवासुकरा गांव में गंझु टोला, पाहन टोला, मुंडा टोला और माझे टोला में कुल 60 घर हैं। योजना की मानें तो इन सभी घरों में संवेदक को सोलर प्लांट के तहत बिजली उपलब्ध करना था। लेकिन संवेदक ने मात्र 16 में ही लाइट का कनेक्शन कर कार्य बंद कर दिया। ग्रामीणों द्वारा शिकायत करने पर कुल 34 घरों में लाइट कनेक्शन करने अाैर बाकी 19 परिवार के लोगों के घर के बाहर सोलर प्लेट युक्त बल्ब कनेक्शन देने की बात कही गई थी। लेकिन इन सभी बातों को ताक में रखकर कार्य किया गया।
Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

            Solar plant work not completed in two years in Lovasukra, in only 16 pitches in 60 light<a href="https://www.bhaskar.com/local/jharkhand/jamshedpur/anandpur/news/solar-plant-work-not-completed-in-two-years-in-lovasukra-in-only-16-pitches-in-60-light-127458890.html">
            <img border="0" hspace="10" align="left" src="https://i9.dainikbhaskar.com/thumbnails/680x588/web2images/www.bhaskar.com/2020/06/29/69_1593393891.jpg">
        </a>
        आनंदपुर प्रखंड कार्यालय से 15 किमी दूर रोबोकेरा पंचायत के अंतर्गत लोवासुकरा के लोगों को ढिबरी युग से छुटकारा मिलना मुश्किल हो गया है। गांव में पिछले 2 साल से जेरेडा के तत्वाधान में सन इंफ्रास्ट्रक्चर एजंसी के द्वारा 15 लाख रुपये की लागत से सोलर प्लांट लगाने का कार्य किया जा रहा है। लेकिन दो साल बीतने के बाद भी निर्माण कार्य अधूरा पड़ा हुआ है। ठेकेदार आधा अधूरा कार्य कर चंपत हो गया है।

जिसे लेकर ग्रामीण मुंडा चामू सिंह ने ग्रामीणों का संयुक्त हस्ताक्षरयुक्त लिखित शिकायत आवेदन का उपायुक्त एंव डीडीसी को सौंपकर का मन बनाया है। बताते चलें कि लोवासुकरा गांव में गंझु टोला, पाहन टोला, मुंडा टोला और माझे टोला में कुल 60 घर हैं। योजना की मानें तो इन सभी घरों में संवेदक को सोलर प्लांट के तहत बिजली उपलब्ध करना था। लेकिन संवेदक ने मात्र 16 में ही लाइट का कनेक्शन कर कार्य बंद कर दिया। ग्रामीणों द्वारा शिकायत करने पर कुल 34 घरों में लाइट कनेक्शन करने अाैर बाकी 19 परिवार के लोगों के घर के बाहर सोलर प्लेट युक्त बल्ब कनेक्शन देने की बात कही गई थी। लेकिन इन सभी बातों को ताक में रखकर कार्य किया गया।

   <br><br>
        <a href="https://f87kg.app.goo.gl/V27t">Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today</a>
    <section class="type:slideshow">
                    <figure>
            <a href="https://www.bhaskar.com/local/jharkhand/jamshedpur/anandpur/news/solar-plant-work-not-completed-in-two-years-in-lovasukra-in-only-16-pitches-in-60-light-127458890.html">
                <img border="0" hspace="10" align="left" src="https://i10.dainikbhaskar.com/thumbnails/891x770/web2images/www.bhaskar.com/2020/06/29/69_1593393891.jpg">
            <figcaption>Solar plant work not completed in two years in Lovasukra, in only 16 pitches in 60 light</figcaption>
            </a> 
        </figure>
                </section><img src="https://i9.dainikbhaskar.com/thumbnails/680x588/web2images/www.bhaskar.com/2020/06/29/69_1593393891.jpg" title="लोवासुकरा में दो साल में भी पूरा नहीं हुआ सोलर प्लांट का काम, 60 में मात्र 16 घराें में ही उजाला" />
More from National NewsMore posts in National News »
More from झारखंड खबरMore posts in झारखंड खबर »

Be First to Comment

Thanks to being a part of My Daiky bihar news .

%d bloggers like this: