Press "Enter" to skip to content

लोग चार दिनों तक भक्तिभाव में डूबे रहे [Source: Dainik Bhaskar]



चार दिवसीय कार्तिक छठ का समापन शनिवार को उदयमान सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही हो गया। इससे पहले शुक्रवार को छठवर्तियों ने शाम में अस्तचालगामि सूर्य को अर्घ्य दिया। चार दिवसीय पर्व छठ में लोग चार दिनों तक भक्तिभाव में डूबे रहे ।
प्रखंड के विभिन्न घाट जमुयांय छठ घाट, महादेव मठ, बरदाहा नदी घाट, सिरदला शिव मंदिर, पिपरा कचहरी स्थित अस्थाई घाट आदि छठ घाटों पर शनिवार की सुबह चार बजे से ही छठवर्तियों का आगमन शुरू हो गया था। जैसे ही भगवान भास्कर की लालिमा दिखाई दिए वर्तियों के द्वारा अर्घ्य देने का सिलसिला शुरू हो गया। महिलाएं, बुजुर्ग, बच्चों व यूवकों ने सभी भगवान भास्कर को श्रद्धापूर्वक नमन कर अर्ध्य अर्पित किया।
वहीं प्रखंड के जमुगाय स्थित धनर्जय नादि घाट पर महापर्व छठ का
अर्ध्य तथा प्रखंड के एकमात्र सूर्यमंदिर में श्रद्धालुओं का अपार भीड़ का दृश्य देखने लायक था। एक ओर नदी किनारे पर छठवर्तीयों भगवान भास्कर को अर्ध्य अर्पित कर रही थी । वहीं दूसरी ओर महिलाएं सात घोड़ों पर सवार भगवान सूर्य की पूजा अर्चना कर रहे थे ।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


People were immersed in devotion for four days

More from बिहार समाचारMore posts in बिहार समाचार »

Be First to Comment

    Thanks to being part of My Daily Bihar News .

    %d bloggers like this: