Press "Enter" to skip to content

यूपी में कोविड-19 संक्रमण ने फिर बनाया रिकॉर्ड, तो कोरोना के कहर के बीच योगी सरकार ने लिया बड़ा फैसला [Source: Patrika : India’s Leading Hindi News Portal]

लखनऊ. पत्रिका उत्तर प्रदेश का सभी पाठकों को सुबह सुबह का नमस्कार। आप सभी स्वस्थ्य रहें। खुश रहें। आपका दिन शुभ हो। दिन की शुरुआत से पहले आइए जान लेते हैं यूपी की आज की प्रमुख खबरें।

 

यूपी में कोरोना संक्रमण के करीब 31 हजार मामले, एक दिन में कोविड जांच का बना नया रिकॉर्ड

यूपी में कोरोना की रफ्तार पर ब्रेक नहीं लग रहा है। एक बार फिर प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामले 30 हजार के पार आए हैं। रविवार को प्रदेश में कोरोना संक्रमण के 30983 नए मामले सामने आए। प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि बीते 24 घंटों में संक्रमण के कारण 290 लोगों की मौत भी हुई है। राहत की बात रही कि इस दौरान 36,650 इस बीमारी से ठीक हो गए। प्रदेश में कोरोना संक्रमित लोगों की कुल संख्या 13,13,361 हो गई है। इसके अलावा 10,04,447 लोग इससे ठीक हुए हैं। प्रदेश में एक्टिव केसों की संख्या 2,95,752 हो गई है. वहीं मृतकों का आंकड़ा 13,162 पहुंच गया है।

 

UP में ऑक्सीजन प्लांट लगाने के लिए आवेदन के साथ अनुमति, यहां कर सकते हैं Apply

कोरोना संक्रमण में ऑक्सीजन को लेकर कराह रहे उत्तर प्रदेश में अब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) की पहल पर ऑक्सीजन प्लांट (Oxygen Plant) लगाने के लिए फौरन अनुमति देने की व्यवस्था की जा रही है। सरकार ने ऑक्सीजन की उपलब्धता और बढ़ाने के लिए उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (UP Pollution Control Board) ने ऑक्सीजन प्लांट लगाने वाली औद्योगिक इकाइयों को सुविधा देते हुए तत्काल प्रभाव से एनओसी जारी करने का निर्णय लिया है। इसके लिए ऑक्सीजन प्लांट लगाने वाली इकाइयों को पर्यावरण संरक्षण से जुड़े मानकों का ख्याल रखना होगा और उन्हें उद्योग विभाग के निवेश मित्र पोर्टल पर आवेदन करना होगा।

 

UP News: कोरोना के कहर के बीच योगी सरकार का बड़ा फैसला, अब 15 दिन तक राज्‍य से बाहर नहीं जाएंगी UPSRTC की बसें

उत्तर प्रदेश सरकार ने रविवार को फैसला किया है कि अगले 15 दिनों तक राज्य सड़क परिवहन निगम (UPSRTC) की बसें राज्य की सीमा से बाहर नहीं जाएंगी। सरकारी बयान के अनुसार, मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने संबंधित अधिकारियों को यह व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिये हैं। एक उच्‍चस्‍तरीय बैठक में कोविड-19 प्रबंधन की समीक्षा करते हुए योगी ने हिदायत दी कि आगामी 15 दिनों तक उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम की बसों का संचालन केवल प्रदेश के अंदर ही किया जाए। सीएम योगी ने कहा कि विमान सेवा से प्रदेश में आने वाले लोगों के लिए कोविड-19 की निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य की जाए। यह भी सुनिश्चित किया जाए कि विमान सेवा के माध्यम से प्रदेश से जाने वाले लोग भी निगेटिव रिपोर्ट आने पर ही जाएं और रेल से आने वाले यात्रियों की पूरी सूची प्राप्त की जाए, साथ ही उनकी स्क्रीनिंग भी की जाए।

 

COVID-19: UP की जेलों में कैदियों को 60 दिन का पैरोल या अंतरिम जमानत, जानिए किसे मिलेगा लाभ?

उत्तर प्रदेश की जेलों में कोरोना संक्रमण (COVID-19 Infection in UP Prisons) फैलने पर कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश संजय यादव की अध्यक्षता में गठित कमेटी ने व्यापक पैमाने पर सजायाफ्ता व विचाराधीन कैदियो की रिहाई की योजना घोषित की है। कमेटी ने न्यायिक अधिकारियों को जेलों में जाकर योजना के तहत कैदियों को 60 दिन के पैरोल या अंतरिम जमानत पर रिहा करने की कार्यवाही करने का निर्देश दिया गया है। इसके साथ ही महानिदेशक, कारागार से उन कैदियों का डाटा मांगा गया है, जो सजा पूरी करने के बाद अर्थदण्ड जमा न कर पाने के कारण जेल में हैं। ताकि राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के जरिये जुर्माने का भुगतान कर उन्हें रिहा किया जा सके। एके अवस्थी प्रमुख सचिव गृह व आनंद कुमार महानिदेशक कारागार कमेटी के सदस्य हैं। यह कमेटी सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर कोरोना संक्रमण की निगरानी के लिए गठित की गई है।

 

Sarkari Naukri-2021 : यूपी पुलिस में SI और ASI के 1329 पदों के लिए शुरू हुए आवेदन

उत्तर प्रदेश पुलिस में सब इंस्पेक्टर, असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर के 1329 पदों के लिए आवेदन शुरू हो गए हैं। अभ्यर्थी इन पदों पर आवेदन 31 मई तक कर सकते हैं। उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड द्वारा की जा रही ये भर्ती पुलिस एसआई (गोपनीय), एएसआई (क्लर्क) और एएसआई (ऑडिटर) पदों के लिए है। इस भर्ती का नोटिफिकेशन 23 मार्च को ही जारी किया गया था। अभ्यर्थी पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड की वेबसाइट uppbpb.gov.in पर जाकर आवेदन कर सकते हैं। इन पदों के लिए अभ्यर्थी की न्यूनतम शैक्षिक योग्यता किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय या कॉलेज से ग्रेजुएशन होनी चाहिए। इसके अलावा टाइपिंग स्किल भी जरूरी है। इन पदों पर अभ्यर्थी का चयन लिखित परीक्षा, शारीरिक परीक्षण और टाइपिंग टेस्ट के बाद होगा।

 

यह भी पढ़ें: UP Panchayat Election Results 2021: हर जिले में टूटा कोविड गाइडलाइन का प्रोटोकॉल, नतीजों की घोषणा से पहले कुछ प्रधानों की निकली जान

More from उत्तर प्रदेशMore posts in उत्तर प्रदेश »

Be First to Comment

    Thanks to being part of My Daily Bihar News .

    %d bloggers like this: