Press "Enter" to skip to content

यूपी बजट 2021 में किसानों के लिए तोहफों की बरसात [Source: Patrika : India’s Leading Hindi News Portal]

लखनऊ. यूपी बजट 2021 में किसानों के लिए तोहफों की बरसात की है। आगामी विधानसभा चुनाव अधिक दूर नहीं है। सीएम योगी ने आने वाले चुनाव को देखते किसानों को खुश करने की कोशिश की है। वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने कहाकि, रबी की फसल के लिए 223 लाख मीट्रिक टन खरीद का लक्ष्य है।

यूपी बजट 2021 के लिए वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने बजट भाषण में कहाकि, गन्ना किसानों को एक हजार करोड़ रुपए से ज्यादा का भुगतान किया गया। 19 चीनी मिलों ने 126 लाख 37 हजार टन चीनी का उत्पादन किया है। पिपराइच और मुंडेरवा की नई चीनी मिलों में 27 हजार मेगावॉट क्षमता का संयंत्र स्थापित किया गया है, गन्ने के रस से सीधे इथेनॉल बनाने वाली पिपराइच पहली चीनी मिल होगी।

यूपी बजट 2021 : मजदूरों को तोहफा, अब घंटे के हिसाब से मिलेगी मजदूरी

अधिक उत्पादक वाली फसलों की पहचान :- वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने कहाकि, प्रदेश में अधिक उत्पादक वाली फसलों की पहचान की जाएगी। ब्लॉक स्तर पर कृषक उत्पादन संगठनों की स्थापना होगी और इसके लिए 100 करोड़ रुपए दिए जाएंगे। किसानों को सिंचाई के लिए मुफ्त पानी की सुविधा के लिए 700 करोड़ रुपए दिया जाएगा। किसानों को रियायती दाम पर लोन देने का भी ऐलान किया गया है।

आय दोगुना करने का लक्ष्य :- प्रदेश सरकार ने वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने का लक्ष्य रखा है। इसके लिए वित्तीय वर्ष 2021-22 से आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना संचालित की जाएगी। इस योजना के लिए 100 करोड़ रुपये प्रस्तावित किए गए हैं।

फसली ऋण के लिए 400 करोड़ रुपए:- मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना के लिए 600 करोड़ रुपए बजट की व्यवस्था की गई है। रियायती दरों पर किसानों को फसली ऋण उपलब्ध कराने के लिए 400 करोड़ रुपए की व्यवस्था की है। किसानों को दो करोड़ 40 लाख रुपया की किसानों को सम्मान निधि दी गई।

15 हजार सोलर पंप :- प्रधानमंत्री किसान ऊर्जा सुरक्षा एवं उत्थान महाभियान के लिए वर्ष 2021-22 के लिए 15 हजार सोलर पंपों की स्थापना का लक्ष्य निर्धारित किया है।

More from उत्तर प्रदेशMore posts in उत्तर प्रदेश »

Be First to Comment

    Thanks to being part of My Daily Bihar News .

    %d bloggers like this: