Press "Enter" to skip to content

माफिया जीतू सोनी के बेटे विक्की सोनी ने अलुसबह किया थाने पर सरेंडर, अवैध हथियार रखने का है आरोप




1 लाख 60 हजार के इनामी माफिया जीतू सोनी के बेटे विक्की सोनी ने बुधवार सुबह कनाडिया थाने में सरेंडर कर दिया। विक्की के ऊपर कनाडिया थाने में शासकीय कार्य में बाधा और अवैध रूप से हथियार और कारतूस रखने का केस दर्ज था।

कनाडिया पुलिस ने बताया कि 30 नवंबर की रात को जब जीतू सोनी के माय होम पर दबिश पड़ी थी,उसी के बाद रात में जीतू के घर में भी पुलिस टीम ने दबिश दी थी। इस दौरान जीतू की तलाश करने के लिए पुलिस अंदर घुसने वाली थी। तभी जवानों के साथ विक्की,लक्की, जिग्नेश ने मिलकर पुलिस जवानों से बदसलूकी की थी और उन्हें घर में घुसने से रोका था। तलाशी में उनके घर से कई सारे कारतूस व अवैध पिस्टल मिली थी। इसी के बाद इन पर केस दर्ज किया था तो यह फरार हो गए थे अभी लकी और जिग्नेश की तलाश की जा रही है।

28 जून को जीतू गुजरात से गिरफ्तार हुआ
होटल माय होम में 67 महिलाओं को बंधक बनाकर रखने, मानव तस्करी, लूट जैसे 64 आपराधिक प्रकरणों में फरार जीतू उर्फ जितेंद्र सोनी को क्राइम ब्रांच ने गुजरात मेंे अमरेली जिले के उसके पुश्तैनी गांव धारग्नि से रविवार तड़के 4 बजे गिरफ्तार किया था। रविवार को ही उसे इंदौर लाकर कोर्ट में पेश किया गया, 3 जुलाई तक पुलिस रिमांड पर साैंपा गया है। उसे महिला थाने की हवालात में रखा गया है। क्राइम ब्रांच एएसपी राजेश दंडोतिया के मुताबिक महेंद्र सोनी की गिरफ्तारी के बाद जीतू के छह ठिकानों की जानकारी मिली थी। चार ठिकानों पर 6 टीमों ने दबिश भी दी, लेकिन वह नहीं मिला। इस बीच पुलिस को खबर मिली कि रविवार को जीतू अपने पिता के पुण्यतिथि कार्यक्रम में पुश्तैनी गांव धारग्नि आने वाला है। इस पर पुलिस शनिवार रात ही टूरिस्ट बनकर गांव के मुहाने तैनात हो गई। तड़के 3.30 से 4 बजे के बीच जीतू गांव में आया। टीम ने उस घर को घेर लिया, जिसमें जीतू गया था। यहीं से गिरफ्तार कर उसे टीम इंदौर ले आई। बताते हैं कि जीतू कार्यक्रम अटेंड कर आधे घंटे में निकलने भी वाला था।

26 जून को चाचा महेंद्र को किया गिरफ्तार
मानव तस्करी समेत अन्य मामलों के आरोपी 10 हजार रुपए के इनामी महेन्द्र सोनी को पकड़ने में पुलिस की 6 टीमें लगी थीं। महेन्द्र पर आरोप है कि वह बंगाल से गरीब परिवार की लड़कियों को माय होम होटल में लाता था, जहां पर उनका शोषण किया जाता था। पुलिस के अनुसार, आरोपी के गुजरात में छिपे होने की सूचना मिली थी। उसके बाद पुलिस ने 6 टीमें बनाकर गुजरात रवाना किया। पुलिस की टीम ने गुजरात के अमरेली में दो स्थानों पर और राजकोट में चार स्थानों पर दबिश दी। इसी दौरान एक टीम ने अमरेली जिले के सावेरकुंडला में हिम्मतलाल सोनी के घर छापा मारा तो जीतू सोनी का भाई महेन्द्र सोनी गिरफ्त में आ गया।

दिसंबर 2019 को पुलिस ने मारा था छापा
एक दिसंबर 2019 को पुलिस को सूचना मिली थी कि लोकस्वामी अखबार के मालिक जीतू सोनी और अन्य द्वारा शहर में बिना अनुमति माय होम डांस बार चलाया जा रहा है। जहां पर कई युवतियां बंधक होकर काम कर रही हैं। होटल में अवैध गतिविधियां भी संचालित की जा रही हैं। इस पर पुलिस और प्रशासन की संयुक्त टीम ने गीता भवन चौराहे के पास बने माय होम होटल में छापा मारा। होटल की तलाशी लेने पर छोटे-छोटे कमरों में 67 युवतियां मिलीं जो अन्य राज्यों की थी और काफी गरीब घरों से थीं। माय होम होटल के मालिक और संचालक द्वारा इन लड़कियों से नाच-गाना कराया जाता था। बाउंसर और अन्य व्यक्तियों के माध्मय से इन युवतियों को बंधक बनाकर उनका यौन शौषण भी किया जाता था।

जीतू पर क्या आरोप हैं
लोकस्वामी अखबार के मालिक जीतू सोनी पर होटल माय होम में बिना मंजूरी के डांस बार चलाने का आरोप है। इंदौर पुलिस ने बताया था कि होटल में कई युवतियों को बंधक बनाकर काम कराया जा रहा है। पुलिस और प्रशासन की संयुक्त टीम ने दिसंबर में गीता भवन चौराहे के पास होटल में छापा मारा था। होटल की तलाशी लेने पर छोटे-छोटे कमरों में 67 लड़कियां मिली थीं, जो अन्य राज्यों की थी और काफी गरीब घरों से थीं। बाउंसर और अन्य व्यक्तियों के जरिए इन युवतियों को बंधक बनाकर यौन शौषण भी किया जाता था। जीतू पर आरोप यह है कि अपने डांस बार में अफसर और नेताओं को बुलाकर उन्हें ट्रैप करता था और उनसे पैसा वसूल करता था। सरकार ने माफिया अभियान के तहत जीतू का ऑफिस और बंगले तोड़ दिए थे।

  <br><br>
        <a href="https://f87kg.app.goo.gl/V27t">Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today</a>
    <section class="type:slideshow">
                    <figure>
            <a href="https://www.bhaskar.com/local/mp/indore/news/mafia-jeetu-sonis-son-vicky-soni-has-also-accused-the-police-of-surrendering-illegal-weapons-127466092.html">
                <img border="0" hspace="10" align="left" src="https://i10.dainikbhaskar.com/thumbnails/891x770/web2images/www.bhaskar.com/2020/07/01/4_1593578998.jpg">
            <figcaption>माय होम पर दबिश के दौरान विक्की ने पुलिस को भीतर जाने से रोका था।</figcaption>
            </a> 
        </figure>
                </section>
More from मध्य प्रदेशMore posts in मध्य प्रदेश »

Be First to Comment

    Thanks to being a part of My Daiky bihar news .

    %d bloggers like this: