Press "Enter" to skip to content

‘मर्दानी’ रानी बोलीं – बॉलीवुड में काम करना बेहद मुश्किल [Source: Patrika : India’s Leading Hindi News Portal]

रानी मुखर्जी को अपने जबर्दस्त अभिनय और प्रदर्शन की बदौलत सिल्वर स्क्रीन पर राज करते हुए अब 25 साल हो गए हैं! बॉलीवुड स्टार बनने कीचाह रखने वाली युवतियों को यह अद्भुत अभिनेत्री एक खास सलाह दे रही है! रानी कहती हैं, “मेरी एकमात्र सलाह यही होगी कि फिल्म इंडस्ट्री में एक्ट्रेस बनना कोई खाने का काम नहीं है। यह बड़ा ही मुश्किल पेशा है, क्योंकि एक बार जब आप स्टार के तौर पर स्थापित हो जाते हैं तो दर्शक आपसे ढेर सारी अपेक्षाएं करने लगते हैं। इसके अलावा अलग-अलग माहौल और परिस्थितियों में काम करना भी इतना आसान नहीं होता।”

'मर्दानी' रानी बोलीं - बॉलीवुड में काम करना बेहद मुश्किल

रानी बताती हैं कि नजर आने वाले तमाम ग्लैमर के पीछे इस हुनर और कला के प्रति वह जुनून छिपा होता है, जिसे एक एक्ट्रेस रोजाना समर्पित करती है। उनका कहना है- “इसमें कोई शक नहीं कि स्क्रीन पर यह सब बहुत ग्लैमरस, बड़ा आसान और बढ़िया नजर आता है। यह बड़ा मनोरम और सुंदर भी दिखाई देता है; खासकर जब हम खूबसूरत लोकेशनों में शूटिंग करते हैं। लेकिन असल बात यह है कि इंडस्ट्री में काम करना बेहद, बेहद मुश्किल है।“

'मर्दानी' रानी बोलीं - बॉलीवुड में काम करना बेहद मुश्किल

इस एक्ट्रेस की बहुमुखी प्रतिभा आगे यह राय देती है- “अगर आप वाकई कड़ी मेहनत करने के लिए तैयार हैं और एक्टिंग के हुनर को सचमुच प्यार करती हैं, तभी आप फिल्म इंडस्ट्री में आइए। इससे इतर यहां आने की कोई और वजह नहीं होनी चाहिए, क्योंकि कामयाबी, ग्लैमर, नाम और शोहरत केवल तभी मिलती है जब ऑडियंस आपको प्यार करती है। सबसे पहली और सबसे महत्वपूर्ण चीज है- बेहद गंभीरता व पूरी ईमानदारी के साथ काम करना, ताकि आपको उम्र भर के लिए वफादार प्रशंसक हासिल हो सकें।“

'मर्दानी' रानी बोलीं - बॉलीवुड में काम करना बेहद मुश्किल

रानी अगली दो बहु-प्रतीक्षित फिल्मों में नजर आएंगी, जिनके नाम हैं- ‘बंटी और बबली 2’ तथा ‘मिसेज चटर्जी वर्सेस नॉर्वे’। उनकी मर्दानी सीरीज की तीसरी कड़ी के भी कयास लगाए जा रहे हैं।

'मर्दानी' रानी बोलीं - बॉलीवुड में काम करना बेहद मुश्किल

More from BollywoodMore posts in Bollywood »

Be First to Comment

    Thanks to being part of My Daily Bihar News .

    %d bloggers like this: