Press "Enter" to skip to content

प्रदेश में रिकवरी का प्रतिशत 66.86 है – अमित मोहन प्रसाद

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य Amit Mohan Prasad ने आज यहां लोक भवन में प्रेस प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए बताया कि प्रदेश में टेस्टिंग का कार्य तेजी से किया जा रहा है। कल एक दिन में सर्वाधिक 20,782 सैम्पल की जांच की गयी। जो अब तक का एक रिकार्ड है। उन्होंने बताया कि अब तक कुल 6,84,296 सैम्पल की जांच की गयी है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 6,679 कोरोना के मामले एक्टिव हैं। उन्होंने बताया कि अब तक 14,808 मरीज पूरी तरह से उपचारित हो चुके हैं। उन्होंने बताया कि अब डिस्चार्ज का प्रतिशत 66.86 है। उन्होंने बताया कि पूल टेस्ट के अन्तर्गत कुल 1899 पूल की जांच की गयी, जिसमें 1723 पूल 5-5 सैम्पल के तथा 176 पूल 10-10 सैम्पल की जांच की गयी।

Amit Mohan Prasad ने बताया कि आशा वर्कर्स द्वारा अब तक 19,01,712 लाख कामगारों,श्रमिकों से उनके घर पर जाकर सम्पर्क किया गया। जिसमें से 1664 लोगों में कोरोना जैसे लक्षण मिले, इन लोगों के सैम्पल लेकर उनकी जांच की जा रही है, जिसमें से 1253 लोगों की रिपोर्ट प्राप्त हुई, इनमें से 231 लोग कोरोना संक्रमित पाये गये। उन्होंने बताया कि ग्राम एवं मोहल्ला निगरानी समितियों के द्वारा निगरानी का कार्य सक्रियता से किया जा रहा है। अब तक 1,49,840 सर्विलांस टीम द्वारा 1,09,93,288 घरों के 5,60,53,424 लोगों का सर्वेक्षण किया गया है। उन्होंने बताया कि आरोग्य सेतु ऐप से अलर्ट जनरेट आने पर कन्ट्रोल रूम द्वारा निरन्तर फोन किया जा रहा है। अलर्ट जनरेट होने पर अब तक 93,646 लोगों को कन्ट्रोल रूम द्वारा फोन कर जानकारी प्राप्त की गयी।

उन्होंने बताया कि सर्विलेंस के कार्य को बड़े स्तर पर बढ़ाया जा रहा है जिसकी शुरूआत मेरठ मण्डल में आगामी जुलाई माह में एक विशेष अभियान चलाकर की जायेगी। जिसके तहत डोर टू डोर मेडिकल स्क्रीनिंग की जायेगी। उन्होंने बताया कि इसके बाद प्रदेश के 17 मण्डलों में भी इस अभियान को प्रारम्भ किया जायेगा। इस अभियान के अन्तर्गत डोर टू डोर सभी घरों का सर्वेक्षण किया जायेगा। समस्त इलाकों में कोमिविलिटी की भी पहचान किया जायेगा। इसमें सभी को कोरोना से बचाव तथा सावधानी बरतने के लिए कहा जायेगा। उन्होंने कहा कि लोग अनावश्यक घरों से बाहर न निकलें। फेस कवर करें, मास्क लगायें और दो गज की जरूरी बनाकर कर रखें। हाथ को साबुन-पानी से धोते रहे। उन्होंने कहा कि बचाव के तरीके सरल हैं इसलिए इसका पालन करें।

More from उत्तर प्रदेशMore posts in उत्तर प्रदेश »

Be First to Comment

    Thanks to being a part of My Daiky bihar news .

    %d bloggers like this: