Press "Enter" to skip to content

पीएम मोदी की बैठक में बड़ा फैसला: वैक्सीन और ऑक्सीजन उपकरणों पर अगले तीन महीने कस्टम ड्यूटी माफ, वैक्सीन इंपोर्ट पर भी छूट [Source: दैनिक भास्कर हिंदी]

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में शनिवार को हुई उच्चस्तरीय बैठक में कोविड वैक्सीन और 16 तरह के ऑक्सीजन उपकरणों के आयात पर बेसिक ड्यूटी अगले तीन महीनों के लिए हटाने का निर्णय हुआ। प्रधानमंत्री मोदी ने देश को ऑक्सीजन संकट से उबारने के लिए सभी मंत्रालयों से मिलकर काम करने पर जोर दिया है।

इस दौरान कोविड मरीजों के लिए लाभदायक ऑक्सीजन आदि से जुड़े कुल 16 उपकरणों के आयात पर लगने वाले कस्टम शुल्क को माफ करने का निर्णय हुआ। इसमें मेडिकल ऑक्सीजन, ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर, ऑक्सीजन फिलिंग सिस्टम, ऑक्सीजन जनरेटर, हाई फ्लो नसल, ऑक्सीजन पैदा करने वाले सभी तरह के उपकरणों को अगले तीन महीनों तक बेस्टिक कस्टम ड्यूटी से छूट देने का निर्णय लिया गया। इसके अलावा विदेशों से कोविड वैक्सीन के आयात पर भी अगले तीन महीनों तक बेसिक कस्टम ड्यूटी को माफ करने का निर्णय हुआ। ताकि देश में इन सामानों की कम दाम पर उपलब्धता सुनिश्चित हो सके।

प्रधानमंत्री मोदी ने वित्त मंत्रालय को इन उकरणों के आयात के लिए क्लियरेंस को जल्द से जल्द करने को कहा। जिसके बाद वित्त मंत्रालय ने कस्टम्स के ज्वाइंट सेक्रेटरी गौरव को ऑक्सीजन से जुड़े सभी उपकरणों के आयात पर कस्टम से छूट क्लियरेंस के लिए नोडल अफसर नियुक्त किया। इस बैठक में वित्त मंत्री, वाणिज्य मंत्री, स्वास्थ्य मंत्री, प्रधानमंत्री के प्रमुख सचिव, नीति आयोग के सदस्य, एम्स के डायरेक्टर सहित प्रमुख अधिकारी मौजूद रहे।

एयरफोर्स के C-17 से लाए गए कंटेनर
ऑक्सीजन की किल्लत दूर करने के लिए भारत सरकार ने शनिवार को सिंगापुर से 4 क्रायोजेनिक ऑक्सीजन कंटेनर मंगवाए। वायुसेना का C-17 एयरक्राफ्ट ये खाली कंटेनर लेकर आया है। एयरफोर्स का विमान सिंगापुर के चांगी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर सुबह 7.45 बजे पहुंचा था। वहां से 8 बजे वह रवाना हुआ। प्लेन को पश्चिम बंगाल के पानागढ़ एयरबेस पर उतारा गया।

गुरुवार को भी की थी हाई लेवल रिव्यू मीटिंग
इससे पहले गुरुवार को भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ऑक्सीजन की सप्लाई को लेकर हाई लेवल मीटिंग की थी। इसमें उन्होंने अफसरों को निर्देश दिए थे कि राज्यों को की जा रही ऑक्सीजन सप्लाई में किसी तरह की रुकावट नहीं आनी चाहिए।

गृह मंत्रालय का राज्यों को निर्देश- बेरोकटोक हो ऑक्सीजन वाली गाड़ियों का मूवमेंट

एक से दूसरे जिले या इलाके में ऑक्सीजन लेकर जा रही गाड़ियों को रोका नहीं जा सकेगा।
ऑक्सीजन ले जा रही गाड़ियों के एक से दूसरे राज्य में जाने पर भी कोई रोक नहीं रहेगी।
ऑक्सीजन मैन्युफैक्चरर्स से यह नहीं कहा जा सकेगा कि वे किसी एक राज्य या शहर के अस्पतालों को ही अपनी सप्लाई भेजें।
शहरों के अंदर भी ऑक्सीजन वाली गाड़ियों के मूवमेंट पर समय की कोई पाबंदी नहीं होगी।

पंजाब की स्टील फैक्ट्रियों में बंद होगा काम
पंजाब में ऑक्सीजन की कमी के बीच शनिवार को सभी स्टील और लोहा फैक्ट्री में काम बंद करने का आदेश जारी हुआ है। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा है कि यहां बनने वाली ऑक्सीजन का उपयोग कोरोना मरीजों के लिए किया जाएगा। इसके अलावा जिलों में तत्काल ऑक्सीजन कंट्रोल रूम बनाए जाएंगे।

.Download Dainik Bhaskar Hindi App for Latest Hindi News..Waiver of Custom Duty on Vaccine and Oxygen Devices for Next Three Months. ..

More from दिल्लीMore posts in दिल्ली »

Be First to Comment

    Thanks to being part of My Daily Bihar News .

    %d bloggers like this: