Press "Enter" to skip to content

जामाडोबा वाटर ट्रीटमेंट प्लांट को नहीं मिल रहा पर्याप्त पानी, झरिया और पुटकी में हो रही आंशिक जलापूर्ति [Source: Dainik Bhaskar]



एक दामोदर नदी में गिरते जलस्तर से जामाडोबा जल संयंत्र केंद्र को पर्याप्त पानी नहीं मिल रहा है। इसका असर झरिया एवं आसपास के क्षेत्रों में होने वाली जलापूर्ति पर पड़ना तय है। झरिया पहले से ही आंशिक जलापूर्ति से जूझ रहा है। अब स्थिति और बिगड़ेगी। जानकार एेसी स्थिति के लिए अस्थायी बांध की जरूरत बता रहे हैं। जामाडोबा जल संयंत्र केंद्र के कर्मियों के अनुसार जलस्तर 452 आरएल हो गया है।

सामान्य जलापूर्ति के लिए 453-454 आरएल होना चाहिए। जलस्तर कम होने से 12 एमजीडी एवं 9 एमजीडी जल भंडारण गृह के लिए नदी के इंटेक वाॅल्ब में लगे 11 नंबर एवं 12 नंबर मोटर पंप के फुटबॉल को पानी नहीं मिल रहा है। पंप एयर ले रहा है। वर्तमान में मात्र 4 नंबर एवं 5 नंबर मोटर पंप के सहारे ही 9 एमजीडी एवं 12 एमजीडी में कम मात्रा में जल भंडारण कर पुटकी एवं झरिया क्षेत्रों में आंशिक रूप से जलापूर्ति की जा रही है।

बालू तस्करी के कारण पानी की दिशा बदली

कर्मियों ने बताया कि नदी का दूसरा छोर बोकारो जिले में पड़ता है। बालू माफिया उस छोर से बेरोकटोक बालू निकाल रहे हैं। इसके कारण पानी की दिशा बदल गई है। प्रशासन तस्करी नहीं रुकवा पा रहा है।

नदी का जलस्तर कम होता जा रहा है। इसको लेकर छठ के बाद नदी में अस्थायी बांध बनाकर पानी रोकने पर होगा ताकि पंप को भरपूर मात्रा में पानी मिल सके।
इंद्रेश शुक्ला, टीएम, झमाडा

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Jamadoba water treatment plant not getting enough water, increased risk of water scarcity, water level of Damodar river dropped, partial water supply in Jharia and Putki

More from झारखंड खबरMore posts in झारखंड खबर »

Be First to Comment

    Thanks to being part of My Daily Bihar News .

    %d bloggers like this: