Press "Enter" to skip to content

गुरुवार को इतने छात्र हुए थे पॉजिटिव, सरकारी संख्या बताई गई 2 [Source: Dainik Bhaskar]



मुंगेर में एक ही स्कूल के 25 छात्र कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। संक्रमण की इस बड़ी चेन से हड़कंप मच गया है। लेकिन, स्वास्थ्य विभाग के रिकार्ड में मुंगेर में गुरुवार को 2 ही नया मामला आया है। जबकि गुरुवार को मुंगेर के एक सरकारी स्कूल 75 बच्चों की जांच की गई तो 25 बच्चे कोरोना संक्रमित पाए गए। अब सवाल यह है कि 25 संक्रमितों की सूची स्वास्थ्य विभाग ने अपडेट क्यों नहीं की। मुंगेर में कोरोना पूरी तरह से काबू में था। 2 जनवरी को मुंगेर में मात्र 2 नए मामले आए थे। 3 और 4 जनवरी को भी एक-एक नया मामला आया। 5 जनवरी से लेकर 7 जनवरी तक स्वास्थ्य विभाग ने हर दिन दो-दो नए संक्रमण बताए हैं। अब छात्रों को लेकर ही सवाल खड़ा किया जा रहा है, कोविड गाइडलाइन के साथ खोले गए स्कूलों में संक्रमित छात्रों की संख्या मुंगेर के आंकड़ों में क्यों नहीं जोड़ी गई? यह बड़ा सवाल है।

बच्चों की कांटेक्ट हिस्ट्री खंगालना बड़ी चुनौती
मुंगेर के एक स्कूल से कोरोना के बड़े खतरे की घंटी बजी है। यहां एक साथ 25 छात्र कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। आंकड़ा बड़ा और विकराल रूप ले सकता है, क्योंकि संक्रमित बच्चों ने बड़ों की तरह कोविड गाइड लाइन का पालन नहीं किया होगा। ऐसे में क्लास और स्कूल के अन्य बच्चों के साथ संपर्क में आने वालों में संक्रमण का खतरा है। प्रदेश का पहला मामला भी मुंगेर का आया था जिसमें संक्रमित की इलाज के दौरान पटना AIIMS में मौत हो गई थी।

ऐसे खुला था कोरोना का पास बुक जो दो लाख पार कर गया
कोरोना का पहला मामला बिहार में 22 मार्च 2020 को आया था। कतर से लौटे मुंगेर के सैफ अली नाम के युवक की इलाज के दौरान ही पटना AIIMS में मौत हो गई थी। पहला मामला और पहली मौत से प्रदेश में हड़कंप मच गया था। मुंगेर से खुला प्रदेश में कोरोना का खाता अब 255097 तक पहुंच गया है। मुंगेर में अब तक 4176 लोग कोरोना संक्रमित हुए हैं। इसमें 4073 ने संक्रमण को मात दे दी है, जबकि 51 लोगों की मौत हो गई है। मौजूदा समय में 52 से अधिक एक्टिव मामले हैं। इसमें गुरुवार को 25 संक्रमितों का आंकड़ा जोड़ा जाए तो संख्या 100 के आस पास पहुंच जाएगी।

कोरोना की दूसरी लहर के खतरे के बीच स्कूल में संक्रमण बड़ा खतरा
कोरोना की दूसरी लहर के खतरे के बीच स्कूल में एक साथ 25 छात्रों का संक्रमित होना खतरे की घंटी है। स्कूल खुलते ही गया और मुंगेर में संक्रमण का ऐसा मामला आया है जिसमें वायरस फैला तो बड़ी समस्या होगी। स्कूलों में सैनिटाइजेशन और सोशल डिस्टेंसिंग के साथ थर्मल स्कैनिंग कराई गई तो फिर कोरोना स्कूलों का गेट कैसे पार कर गया यह बड़ा सवाल है। ऐसे में सवाल यह भी है कि कहीं बच्चों को किसी अध्यापक या अन्य स्टॉफ से तो नहीं कोरोना का संक्रमण हुआ है।

पटना में कोरोना के 1597 और बिहार में 4106 एक्टिव मामले
पटना में अब तक कुल 50033 लोगों में कोरोना का संक्रमण हुआ है। इसमें 48044 लोगों ने कोरोना को मात दे दी है जबकि 392 लोगों ने दम तोड़ दिया अब 1597 एक्टिव मामले हैं। बात बिहार की करें तो अब तक 255474 लोगों में कोरोना का संक्रमण हुआ है। इसमें 249943 लोगों ने संक्रमण को मात दिया है। अब तक प्रदेश में 1424 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि कोरोना के एक्टिव मामले की संख्या 4106 है।

गुरुवार को भी कोरोना संक्रमण का आंकड़ा 2 ही बताया गया

मुंगेर में कोरोना पूरी तरह से नियंत्रण में था। एक जनवरी से एक और दो प्रतिदिन मामले आए। मंगलवार को भी 2 नया मामला आया था और बुधवार को भी यही आंकड़ा रहा लेकिन गुरुवार को अचानक से आंकड़े में 25 छात्रों का जुड़ गया। हालांकि अधिकारिक तौर पर विभाग ने छात्रों के संक्रमण को सूची में नहीं जोड़ा है। गुरुवार को भी मुंगेर में कोरोना का संक्रमण 2 ही बताया गया है जबकि 25 छात्रों का मामला भी गुरुवार को आया है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Bihar School Reopen Update, Coronavirus Cases Latest; Munger Students Students Test Positive For Covid

More from बिहार समाचारMore posts in बिहार समाचार »

Be First to Comment

    Thanks to being part of My Daily Bihar News .

    %d bloggers like this: