Press "Enter" to skip to content

कंगना रनोट के तंज पर अब शशि थरूर ने दिया जवाब, बोले-मैं चाहता हूं हर भारतीय महिला आपकी तरह सशक्त हो जाए [Source: Dainik Bhaskar]



कंगना रनोट ने मंगलवार को कांग्रेस नेता शशि थरूर के एक बयान पर नाराजगी जताई थी। जिसमें उन्होंने घरेलू महिलाओं को मासिक भत्ता दिए जाने का आइडिया दिया था। कंगना ने शशि थरूर पर तंज कसते हुए कहा था कि हर चीज में बिजनेस देखना बंद करें। अब शशि थरूर ने कंगना रनोट के इस तंज पर जवाब देते हुए कहा कि मैं चाहता हूं हर भारतीय महिला आपकी तरह सशक्त हो जाए।

शशि थरूर ने सोशल मीडिया पोस्ट में कंगना को जवाब देते हुए लिखा, मैं आपकी बात से सहमत हूं कि घरेलू महिलाओं की जिंदगी में कई चीजें होती हैं, जिनकी कीमत नहीं लगाई जा सकती। लेकिन ये मुद्दा उन चीजों को लेकर नहीं है। हर महिला को कुछ ना कुछ वेतन और उनके काम को पहचान मिलने के बारे में है। मैं चाहता हूं कि हर भारतीय महिला आपकी तरह सशक्त हो जाए।

कंगना ने थरूर पर कसा था तंज
इससे पहले कंगना ने सोशल मीडिया पोस्ट में शशि थरूर पर भड़कते हुए लिखा था, “हमारी लैंगिकता की कीमत मत लगाइए। हमें अपनों की देखभाल के लिए पैसा मत दीजिए। हमें अपनी छोटी सी दुनिया, अपने घर की मल्लिका होने के लिए सैलरी नहीं चाहिए। हर चीज में बिजनेस देखना बंद कीजिए। खुद को अपनी महिला के प्रति समर्पित कीजिए, क्योंकि उसे आपकी जरूरत है। आपने प्यार/सम्मान/ सैलरी की नहीं।”

##

शशि थरूर के इस पोस्ट पर भड़की थीं कंगना
शशि थरूर ने अपनी पोस्ट में लिखा था, “मैं कमल हासन के उस आइडिया का समर्थन करता हूं, जिसमें उन्होंने घर के काम को सैलरीड प्रोफेशन बनाने की वकालत की है। राज्य सरकार द्वारा घरेलू महिलाओं को मासिक भत्ता दिया जाना चाहिए। इससे समाज में काम करने वाली महिलाओं को सम्मान मिलेगा और उनकी सेवाओं का मुद्रीकरण होगा। इससे उनकी पावर और स्वायत्तता बढ़ेगी और वे यूनिवर्सल बेसिक इनकम के नजदीक पहुंच जाएंगी।”

मालकिन को कर्मचारी बनाना बदतर: कंगना
कंगना ने अपनी अगली पोस्ट में एक सोशल मीडिया यूजर को भी जवाब देते हुए लिखा था, “घर की मालकिन को कर्मचारी बनाना, मांओं को उनकी कुर्बानी और जिंदगीभर के अटूट कमिटमेंट्स की कीमत लगाना बदतर होगा। ऐसा लगता है कि आप भगवान को उसकी रचना के लिए भुगतान करा रहे हैं। क्योंकि अचानक आपको उनके प्रयासों पर दया आ गई। यह कुछ हद तक दर्दनाक और कुछ हद तक मजाकिया विचार है।”

##

दरअसल, अर्जिता सिंह नाम की एक सोशल मीडिया यूजर ने सवाल खड़ा करते हुए लिखा था, “क्या आपको नहीं लगता कि अब होम मेकर्स (घरेलू महिलाओं) को उनके काम के लिए सम्मान देने का वक्त आ गया है, जो कि लंबे समय से बकाया है। हमारे समाज ने कभी होम मेकर्स को उतना सम्मान नहीं दिया, जितना उन्हें मिलना चाहिए था। कामकाजी पुरुषों को ज्यादा महत्व दिया जाता है। घरेलू महिलाओं को आर्थिक रूप से पति पर निर्भर रहना होता है।”

चुनाव प्रचार के दौरान हासन ने दिया था बयान
मक्कल नीधी मैयम (एमएनएम) के अध्यक्ष और अभिनेता कमल हासन ने सोमवार को अपने प्रचार के दौरान दूसरी राजनीतिक पार्टियों अन्नाद्रमुक और द्रमुक पर निशाना साधा था। उन्होंने कहा था कि उन्हें और उनकी पार्टी को मिल रहा प्यार इस बात का सबूत है कि लोग अब बदलाव चाहते हैं। कमल हासन ने तमिलनाडु में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर सवाल उठाया था और घरेलू महिलाओं के काम को सैलरीड प्रोफेशन बनाने की बात कही थी। तमिलनाडु में अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव होने हैं।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Shashi Tharoor responds to Kangana Ranaut’s comment, Said- ‘I’d like all Indian women to be as empowered as you

More from BollywoodMore posts in Bollywood »

Be First to Comment

    Thanks to being part of My Daily Bihar News .

    %d bloggers like this: