Press "Enter" to skip to content

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन बोले- टीम इंडिया के ब्रिस्बेन टेस्ट नहीं खेलने की रिपोर्ट पर बढ़ा तनाव [Source: Dainik Bhaskar]



ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन ने टीम इंडिया के चौथे टेस्ट नहीं खेलने वाली खबरों को लेकर पहली बार बयान दिया। उन्होंने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि ब्रिस्बेन में 15 जनवरी से शुरू होने वाले चौथे टेस्ट का स्थान बदलने वाली खबरों के कारण तनाव बढ़ा है। पेन ने कहा कि सीरीज के आखिरी मैच को लेकर अनिश्चितता पैदा हो गई है।

पेन ने कहा, ‘कुछ अनिश्चितताएं हैं। जब आप इस तरह की चीजें सुनते हैं, तो दिक्कत होती है। उनकी (भारत की) तरफ से कई अज्ञात सूत्रों के हवाले से खबर आ रही थी कि वे चौथा टेस्ट कहां खेलने जा रहे हैं और वे कहां जाना नहीं चाहते। अब देखते हैं आगे क्या होता है।’

ऑस्ट्रेलियाई टीम के लिए वेन्यू मायने नहीं रखता
पेन ने कहा, ‘जब मुझे इस बारे में पता चला तो परेशान नहीं था, लेकिन जब यह बात भारत की तरफ से आ रही हो, जो कि दुनिया का सबसे पावरफुल बोर्ड है, तो चांसेज हैं कि वेन्यू में बदलाव हो सकता है। हमारे लिए वेन्यू मायने नहीं रखता। हमारा ध्यान फिलहाल तीसरे टेस्ट पर है। अगले हफ्ते जो कुछ भी फैसला होगा, हम उसका पालन करेंगे। चाहे वह मैच मुंबई में हो या कहीं भी, हम खेलेंगे।’

ब्रिस्बेन को लेकर BCCI फैसला लेगा
वहीं बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में टीम इंडिया के कप्तान अजिंक्य रहाणे ने भी इस मामले को लेकर बयान देने से किनारा कर लिया। उन्होंने कहा कि इस तरह के मामले पर BCCI और टीम मैनेजमेंट फैसला लेगी। रहाणे ने कहा कि सिडनी में प्लेयर्स को सख्त कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करना पड़ रहा है। जबकि बाहर आम जीवन काफी सामान्य है। ऐसे में कुछ चुनौतियां हैं, लेकिन टीम का ध्यान मैच पर है।

भारतीय खिलाड़ी किसी भी परिस्थिति के लिए तैयार
रहाणे ने कहा, ‘हम किसी तरह से परेशान नहीं हैं। क्वारैंटाइन रहने की अपनी चुनौतियां हैं। ऑस्ट्रेलिया में इस होटल से बाहर लाइफ नॉर्मल है, लेकिन हम क्वारैंटाइन हैं। हम जानते हैं हमें क्या करना है और खिलाड़ी किसी भी प्रकार की परिस्थितियों के लिए तैयार हैं। हम जानते हैं कि हमारी प्राथमिकता क्या है।’

चिड़ियाघर के जानवरों की तरह बर्ताव से परेशान टीम इंडिया
दरअसल क्रिकेट वेबसाइट क्रिकबज ने रविवार को टीम इंडिया के अज्ञात सूत्र के हवाले से खबर दी थी कि भारतीय टीम क्वींसलैंड में सख्त क्वारैंटाइन नियमों की वजह से ब्रिस्बेन में मैच नहीं खेलना चाहती है।

सूत्र ने बताया था कि टीम इंडिया के प्लेयर्स चिड़ियाघर में रखे गए जानवरों की तरह किए जा रहे बर्ताव से परेशान हो चुके हैं। यह अजीब बात है कि 20 हजार दर्शकों को स्टेडियम में जाने की इजाजत है और खिलाड़ी क्वारैंटाइन हैं।

सूत्र ने कहा था, ‘भारतीय खिलाड़ियों की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव है। ऐसे में टीम इंडिया के प्लेयर्स के साथ भी ऑस्ट्रेलिया के नागरिकों की तरह ही बर्ताव किया जाना चाहिए। हम सभी प्रोटोकॉल का पालन करने के लिए तैयार हैं।’

BCCI ने मामले पर कोई बयान नहीं दिया
हालांकि BCCI की ओर से इस मामले को लेकर अभी तक कुछ भी नहीं बोला गया है। वहीं क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के अध्यक्ष निक हॉकले ने भी सोमवार को इस पर बयान दिया था। हॉकले ने कहा था कि ब्रिस्बेन में तैयारियों को लेकर भारतीय टीम की नाराजगी से संबंधित कोई जानकारी नहीं मिली है।

टीम इंडिया के प्लेयर्स को एक-दूसरे के कमरे में जाने की इजाजत नहीं
क्वींसलैंड में प्रोटोकॉल के मुताबिक भारतीय टीम के प्लेयर्स को मैच के दौरान अपने कमरों से भी निकलने की इजाजत नहीं दी गई थी। साथ ही मेडिकल टीम को भी एक फ्लोर से दूसरे फ्लोर जाने की इजाजत नहीं थी।

हालांकि बाद में क्वींसलैंड सरकार ने बायो-बबल के अंदर खिलाड़ियों को आपस में मिलने जुलने की इजाजत दे दी थी। क्वींसलैंड की चीफ हेल्थ ऑफिसर डॉक्टर जीनेट यंग ने रविवार को कहा था कि खिलाड़ियों को सिर्फ उनके कमरों तक सीमित नहीं रखा जाएगा। इसपर क्वींसलैंड के कुछ नेताओं ने ऐतराज भी जताया था।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


पेन ने कहा कि चौथे टेस्ट का स्थान बदलने वाली खबरों के कारण तनाव बढ़ा है। वहीं रहाणे ने कहा कि BCCI को इसपर फैसला लेना है।

More from SportsMore posts in Sports »

Be First to Comment

    Thanks to being part of My Daily Bihar News .

    %d bloggers like this: