Press "Enter" to skip to content

ऐतिहासिक: एक दिन में रिकॉर्ड 2.75 करोड़ रुपए होल्डिंग टैक्स जमा, 4000 में से 2431 ने जमा किया टैक्स




रांची में मंगलवार को हूल दिवस की छुट्टी के बावजूद रांची नगर निगम के जनसुविधा केंद्र खोले गए, ताकि लोग होल्डिंग टैक्स जमा कर सकें। निगम की इस सुविधा का लाभ लेने के लिए कचहरी और डोरंडा स्थित निगम कार्यालय से लेकर सड़क तक लोगों की लंबी कतार लग गई। वित्तीय वर्ष 2020-21 का होल्डिंग टैक्स एक साथ जमा करने पर 7.50 फीसदी की छूट दी जा रही थी। इसलिए सुबह 10 बजे से ही निगम कार्यालय में लोगों की भीड़ लगने लगी।

देर शाम तक 3697 लोगों ने कुल 2.75 करोड़ रुपए होल्डिंग टैक्स जमा किया। इसमें 1266 लोगों ने 1,27,57,771 रुपए ऑनलाइन टैक्स भरा, जबकि 1,47,69,352 रुपए ऑफलाइन मोड में कार्यालय में आकर लोगों ने जमा किया। पूरे वित्तीय वर्ष का टैक्स एकमुश्त ऑनलाइन भुगतान करने वालों को 10 फीसदी छूट का लाभ मिला। निगम की मानें तो अभी तक के इतिहास में एक दिन में पहली बार करीब 2 करोड़ रुपए टैक्स जमा हुए।

31 जुलाई तक बिना जुर्माना के टैक्स दे सकेंगे
नगर निगम बोर्ड ने 31 जुलाई तक वित्तीय वर्ष 2020-21 के पहले क्वार्टर का होल्डिंग टैक्स बिना जुर्माना के जमा करने की स्वीकृति दी है । इस दौरान ऑनलाइन टैक्स देने पर पांच फीसदी की छूट मिलेगी।

पर निगम का अधर्म आज से यूजर चार्ज…लॉकडाउन में घरों से कूड़ा नहीं उठा, फिर भी चार माह का एक साथ वसूलेगा पैसा

कोरोना की वजह से 22 मार्च से लॉकडाउन के बाद आज तक शहर के 53 वार्डों में स्थित सभी घरों से शत-प्रतिशत कूड़े का उठाव नहीं हो रहा है। इसके बावजूद नगर निगम उस दौरान भी कूड़ा उठाने के बदले यूजर चार्ज की वसूली करेगा। 1 जुलाई से सभी वार्डों में यूजर चार्ज की वसूली शुरू हो जाएगी। इस दौरान लोगों को एक साथ मार्च, अप्रैल ,मई और जून माह का यूजर चार्ज देना होगा। अब प्रत्येक घर, होटल , लॉज सहित दुकान और कारखानों से यूजर चार्ज की वसूली शुरू हो जाएगी। प्रतिमाह 80 रुपए के हिसाब से 320 रुपए देने होंगे।

राहत की जगह बयानबाजी…
कोरोना के कारण लोगों का जीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है। लेकिन नगर निगम के जनप्रतिनिधि लॉकडाउन से लेकर अभी तक बयान बहादुर ही बनते रहे। कोरोनाकाल में सरकार पर पैसा नहीं देने का आरोप लगाने और निगम के पास फंड नहीं होने का आरोप लगाने वाले प्रतिनिधियों ने राहत देने के कई वादे किए, लेकिन सब सरकार के भरोसे पर।

राहत की जगह बयानबाजी…
कोरोना के कारण लोगों का जीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है। लेकिन नगर निगम के जनप्रतिनिधि लॉकडाउन से लेकर अभी तक बयान बहादुर ही बनते रहे। कोरोनाकाल में सरकार पर पैसा नहीं देने का आरोप लगाने और निगम के पास फंड नहीं होने का आरोप लगाने वाले प्रतिनिधियों ने राहत देने के कई वादे किए, लेकिन सब सरकार के भरोसे पर।

   <br><br>
        <a href="https://f87kg.app.goo.gl/V27t">Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today</a>
    <section class="type:slideshow">
                    <figure>
            <a href="https://www.bhaskar.com/local/jharkhand/ranchi/news/historical-holding-tax-deposit-of-record-275-crores-in-one-day-127465329.html">
                <img border="0" hspace="10" align="left" src="https://i10.dainikbhaskar.com/thumbnails/891x770/web2images/www.bhaskar.com/2020/07/01/42_1593556066.jpg">
            <figcaption>Historical ... Holding tax deposit of record 2.75 crores in one day</figcaption>
            </a> 
        </figure>
                </section>
More from National NewsMore posts in National News »
More from झारखंड खबरMore posts in झारखंड खबर »

Be First to Comment

    Thanks to being a part of My Daiky bihar news .

    %d bloggers like this: