Press "Enter" to skip to content

इम्युनिटी बढाने के लिए शादियों में परोसे जाएंगे नवरत्न दाल और पंचमेल साग, गुड़ के रसगुल्ले से होगा बारातियों का स्वागत [Source: Patrika : India’s Leading Hindi News Portal]

वाराणसी. कोरोनाकाल में लोगों ने अपनी सेहत पर ध्यान देना शुरू कर दिया है। लोगों ने न सिर्फ चीनी सामानों का बहिष्कार कर भारतीय कला के प्रति रुचि दिखाई है, बल्कि खानपान पर भी विशेष ध्यान दिया है। कोरोना से बचाव के लिए अक्सर इम्युनिटी बढ़ाने वाले व्यंजन को डायट में शामिल करने की सलाह दी जाती है। लोगों ने भी इसे गंभीरता से लिया है। इसलिए अब शादी समारोह में भी मेन्यू में इम्युनिटी बढ़ाने वाले खाने को शामिल किया जा रहा है। मसलन, शादी समारोहों में अब पंचमेल साग के साथ नवरत्न दाल परोसी जाएगी। विटामिन, आयरन, एंटी-ऑक्सीडेंट्स युक्त पांच प्रमुख सागों से जहां पंचमेल साग तैयार होगा। वहीं प्रोटीन, कैल्शियम-मैग्नीशियम और फाइबर युक्त नौ दालों से नवरत्न दाल बनाई जाएगी।

शादियों में ऐसे व्यजन की सबसे ज्यादा मांग

पेय पदार्थों से लेकर स्वीट डिश तक में चयन में इम्युनिटी बढ़ाने पर खास ध्यान रखा जा रहा है। एक आंकड़े के अनुसार नवंबर-दिसंबर में होने वाली शादियों में ऐसे व्यंजनों की मांग सबसे ज्यादा है। वैसे भी कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है। कोरोना से बचाव के लिए मास्क और दो गज की दूरी के साथ-साथ इम्युनिटी बढ़ाने वाले खानपान पर भी ध्यान देना जरूरी है। सर्दी का मौसम होने के कारण भी साग और सभी दालों को खास जगह दी जा रही है। पंचमेल साग में चौराई, बथुआ, चना, पालक व सरसों का इस्तेमाल किया जाता है। वहीं नवरत्न दाल में चना, उरद, खड़ा उरद, मूंग, मसूर, अरहर, कुलथी, बोकला और मटर होती है।

रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है नवरत्न दाल

नौ दालों के मिश्रण से बनी नवरत्न दाल रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। स्वाद और सेहत के हिसाब से उपयुक्त नवरत्न दाल में चना, उड़द दाल, छिलके वाला खड़ा उड़द, मूंग, मसूर, अरहर, कुलथी, बोकला और मटर का इस्तेमाल किया जाता है। सभी प्रकार के विटामिन से युक्त मूंग दाल सुपाच्य होती है। उड़द की तासीर गर्म होती है। इसे शक्तिवर्द्धक और कफ पित्तवर्धक माना जाता है। वहीं आयरन युक्त चना दाल हीमोग्लोबिन बढ़ाती है। प्रोटीन और कैल्शियम युक्त कुलथी मधुमेह और पथरी में राहत देने के साथ ही सर्दी से भी बचाती है। इसी तरह फाइबर युक्त मसूर भी सेहत के लिए फायदेमंद है।

गुड़ का रसगुल्ला भी बना लोगों की पसंद

मेन्यू में स्वीड डिश का भी ख्याल रखा जा रहा है। विशेष समारोहों में गुड़ के रसगुल्ले लोगों की पहली पसंद बन रहे हैं। गुड़ गर्म होता है व विटामिन्स और मिनरल्स के साथ भरपूर मात्रा में कौलोरी युक्त होता है। शादी में अक्सर सबसे ज्यादा खाए जाने वाली डिश रसगुल्ला होती है। इसलिए गुड़ के रसगुल्लों को मेन्यू में शामिल किया गया है। वहीं लहसुन, अदरक व आंवला की चटनी भी शामिल है। कारीगर शिवशंकर का कहना है कि पूड़ी के साथ मोटे अनाज की रोटी की डिमांड सबसे ज्यादा है। पिछले साल तक पूड़ी-कचौड़ी व तंदूरी रोटी ही प्रचलन में था जबकि इस बार मक्का और बाजरे की रोटी की मांग ज्यादा है।

ये भी पढ़ें: एक बार फिर सुर्खियों में आया अमेठी, अकेले पूरे यूपी में बनाया इस बात का रिकॉर्ड

ये भी पढ़ें: मुख्यमंत्री ने दिया माटी कला के हुनरमंदों को बड़ा तोहफा, कलाकारों ने जताई खुशी, जताया आभार

More from उत्तर प्रदेशMore posts in उत्तर प्रदेश »

Be First to Comment

    Thanks to being part of My Daily Bihar News .

    %d bloggers like this: