Press "Enter" to skip to content

अगर नहीं ढूंढ़ा गया कोई विकल्प तो अगले दो साल तक पटना के लोगों को करना पड़ेगा महाजाम का सामना [Source: Dainik Bhaskar]



राजधानी में हाइवे पर लगे महाजाम का आज तीसरा दिन है। बुधवार को भी लोगों को जाम से निजात नहीं मिली। गांधी सेतु से लेकर एनएच-30 की दोनों लेन और पटना-गया रूट पर ट्रकों की लंबी कतार लगी हुई है। किसी भी रास्ते से पटना पहुंचना लोगों के लिए पहाड़ तोड़ने जैसा साबित होने लगा है। इस जाम की वजह से उन लोगों की परेशानी बढ़ी हुई है, जो छठ महापर्व के मौके पर पटना से अपने गांव जाने के लिए निकले थे। जो प्राइवेट गाड़ी से हैं, वो भी किसी न किसी जगह पर फंसे हुए हैं। जिनके पास खुद की गाड़ी नहीं है उन्हें और भी दिक्कत हो रही है क्योंकि हाइवे के जाम होने की वजह से सड़क पर बस और ऑटो की संख्या कम हो गई है। हाइवे पर परिवार के साथ सामान लेकर बस और ऑटो का इंतजार करते हुए सैंकड़ों लोगों की भीड़ देखने को मिली। जाम के बावजूद जो बसें चल भी रही हैं, उनमें पैसेंजर्स की भीड़ काफी ज्यादा देखने को मिली। खड़े होकर जाने के लिए भी लोग मजबूर थे। लोग उनमें भेड़-बकरियों की तरह ठूंसे हुए थे।

21 घंटे में 30 किलोमीटर भी नहीं पहुंच पाए
सबसे ज्यादा परेशानी बख्तियारपुर और फतुहा की तरफ से पटना आने वाले एनएच पर है। ट्रकों की कतार ऐसी है कि बड़ी मुश्किल से बसों और छोटी गाड़ियों को दीदारगंज टोल प्लाजा से सर्विस लेन के जरिए निकाला जा रहा है। जाम में फंसे कई ट्रक ड्राइवर ऐसे मिले जो मंगलवार की दोपहर दो बजे के करीब दनियावां पहुंच गए थे, लेकिन बुधवार को 11 बजे तक भी वो गांधी सेतु पार नहीं कर पाए। ये लोग बाइपास थाना मोड़ तक ही पहुंच पाए। यानी 21 घंटे में वे सिर्फ 30 किलोमीटर का सफर तय कर पाए।

बुधवार को भी लोगों को जाम से निजात नहीं मिली।
बुधवार को भी लोगों को जाम से निजात नहीं मिली।

ट्रैफिक पुलिस ने बढ़ाया अपना स्ट्रेंथ
जाम से निजात दिलाने के लिए पटना की ट्रैफिक पुलिस ने अपना स्ट्रेंथ बढ़ा दिया है। गांधी सेतु और नेशनल हाइवे को मिलाकर पहले से पुलिस के 20 अफसर और 75 जवानों को अलग-अलग प्वाइंट पर तैनात किया गया था। अब ट्रैफिक एसपी अमरकेश दारपीनेनी ने इनकी संख्या और बढ़ा दी है। बाइपास थाना मोड़, दीदारगंज टोल प्लाजा और पैजावा कटिंग सहित कई स्थानों पर एक्स्ट्रा में पुलिस के 15 अफसर और 50 जवानों को तैनात किया गया है।

विकल्प तलाशने पहुंचे डीएम
इस जाम से पटना जिला प्रशासन हिल गया है। किसी भी अधिकारी को कुछ भी समझ में नहीं आ रहा है। शहरवासियों को वो जाम से निजात कैसे दिला पाएंगे, इस सवाल का जवाब अभी जिला प्रशासन के पास नहीं है। परेशानी तब और होगी, जब छठ पूजा खत्म होगी। अपने गांव-घर गए लोग जब वापस पटना लौटेंगे। अगर कोई विकल्प नहीं मिला तो उस दौरान जाम की समस्या और बड़े पैमाने पर होगी। इस स्थिति को पटना के डीएम कुमार रवि भी भांप चुके हैं। यही कारण है कि बुधवार को दोपहर बाद वो गांधी सेतु पहुंच गए। डीएम के अनुसार वो लगातार इस समस्या का निदान निकालने में लगे हुए हैं। जल्द ही कुछ न कुछ व्यवस्था करने की बात उनके तरफ से कही जाएगी।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


सबसे ज्यादा परेशानी बख्तियारपुर और फतुहा की तरफ से पटना आने वाले एनएच पर है (प्रतीकात्मक तस्वीर)।

More from बिहार समाचारMore posts in बिहार समाचार »

Be First to Comment

    Thanks to being part of My Daily Bihar News .

    %d bloggers like this: